Friday , September 21 2018

पार्टी और सीट बदल कर चुनाव जितने में माहिर हैं ये भाजपा नेता

चार बार के विधायक कुलदीप हवा का रुख देख न केवल पार्टी बदल लेते हैं बल्कि विधानसभा क्षेत्र को भी बदलने से नहीं चुकते। कुलदीप सिंह सेंगर ब्राह्मणों के वर्चस्व वाले उन्नाव जिले में प्रभावशाली ठाकुर नेता हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

बता दें कि कुलदीप सिंह सेंगर ने अपना राजनीतिक करियर 2002 में शुरू किया। जब बसपा के टिकट पर उन्नाव सदर से विधायक बने। 2007 के विधानसभा चुनाव से पहले सपा में चले गए और इस बार बांगरमऊ सीट से विधायक बने। इसके बाद 2012 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने सीट बदल दी और इस बार भगवंत नगर सीट से विधायक बने।

2017 के विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा का माहौल बनता दिखाई दिया तो सेंगर ने पाला बदलने में देरी नहीं की और उनहोंने भाजपा के टिकट से बांगरमऊ सीट से चुनाव मैदान में उतरा और फिर चौथी बार विधायक बन गये।

ज्ञात हो कि ये वही भाजपा नेता है जिसपर उन्नाव की बलात्कार पीड़िता ने उनपर और उनके साथियों पर गैगरेप का आरोप लगाया था, फिर पीड़िता के पिता को सेंगर समर्थकों ने मारपीट कर जेल भेज दिया था, जिसके बाद पुलिस कस्टडी में इलाज के दौरान पीड़िता के पिता की मौत हो गई।

TOPPOPULARRECENT