उत्तराखंड- हिंदू लड़कियों के साथ मंदिर में मुस्लिम क्यों आते हैं, हम तो मस्जिद नहीं जाते- बीजेपी विधायक

उत्तराखंड- हिंदू लड़कियों के साथ मंदिर में मुस्लिम क्यों आते हैं, हम तो मस्जिद नहीं जाते- बीजेपी विधायक

देहरादून। हाल ही में नैनीताल के रामनगर में गिरिजा मंदिर के पास एक मुस्लिम युवक को बचाने के लिए सब-इंस्पेक्टर गगनदीप सिंह अकेले ही भीड़ से भिड़ गए थे। उनकी इसको लेकर तारीफों के बीच भाजपा विधायक ने भीड़ के हमले को जायज ठहराते हुए कहा है कि हिन्दूवादी संगठनों की उन लोगों के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी, जो हिन्दू संस्कृति को खत्म करना चाहते हैं। रुद्रपुर से विधायक राजकुमार ठकराल ने कहा कि आखिर मुसलमान युवक मंदिर के पास आते ही क्यों हैं।

ठकराल ने कहा, वक्त आ गया है कि उन लोगों को सबक सिखाया जाए जो रामनगर का माहौल खराब करना चाहते हैं। अगर पुलिस प्रशासन ने इस ओर ध्यान नहीं दिया तो हिन्दू सेना को आगे आकर हिन्दू संस्कृति को खराब करने वालों से लड़ना होगा। ठकराल ने भीड़ के मुस्लिम लड़के को जायज ठहराते हुए कहा कि लड़का हिन्दू लड़की के साथ बैठा था, ये हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला है। उन्होंने कहा कि हम मस्जिदों में जाते हैं क्या, जो मुसलमान मंदिरों में आ रहे हैं।

इस मामले में मुस्लिम युवक पर भीड़ के हमले को क्षेत्र के विहिप नेताओं ने भी एक तरह के ठीक कहा है और मुस्लिम युवक के मंदिर के पास आने पहर सवाल उठाए हैं। आपका बता दें कि 22 मई को रामनगर में मुस्लिम युवक इरफान अपनी दोस्त (हिन्दू लड़की) के साथ बैठा था। कुछ हिन्दूवादी संगठनों के कार्यर्ताओं वहां आ गए और उसे पीटना शुरू कर दिया।

इरफान के साथ जब मारपीट हो रही थी तो रामनगर पुलिस स्टेशन में तैनात 28 साल केसब-इसंपेक्टर गगनदीप, जिनकी यहां ड्यूटी थी वो पहुंचे और भीड़ से अकेले भिड़ते हुए इरफान को बचाकर थाने लाए। इस दौरान का वीडियो सामने आया तो देशभर में गगनदीप हीरो बन गए। गगनदीप सिंह ने बताया कि हमने थाने लाकर दोनों से पूछताछ की। लड़का-लड़की दोनों बालिग थे और अपनी मर्जी से बैठे थे। हमने पुलिस सुरक्षा में दोनों को घर छुड़वाया। पुलिस डिपार्टमेंट ने गगनदीप सिंह को 2500 रुपए का ईनाम देने की घोषणा की है।

Top Stories