Thursday , April 26 2018

दलित लड़की के रेप और हत्या को लेकर भाजपा सांसद के ‘भड़काऊ ट्वीट से तनाव

बेंगलुरू : कर्नाटक के विजयपुरा में दलित हिंसा की घटना से हंगामा हो गया। दरअसल इस नाबालिग लड़की का रेप कर दिया गया था, रेप के बाद, इसकी हत्या कर दी गई थी, इस मामले में भाजपा सांसद शोभा करंदलाजे के विरूद्ध प्रकरण दर्ज कर लिया गया। गौरतलब है कि, घटना को लेकर, विजपुरा के कुछ क्षेत्रों में तनाव के हालात निर्मित हो गए। इस मामले में, पुलिस ने जानकारी देते हुए कहा कि, करंदलाजे के विरूद्ध उपद्रव करने और सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने का आरोप था। उनके खिलाफ, आरोप था कि, उन्होंने अफवाह फैलाई है। पुलिस ने भी कहा कि सांसद के ट्वीट्स और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के माध्यम से वीडियो संदेश तटीय कर्नाटक के क्षेत्रों में तनाव को बढ़ा दिया गया है।

पुलिस ने कहा कि लोगों को उग्रवादी, दंगे, सांप्रदायिक सद्भाव को परेशान करने और अफवाह फैलाने के लिए उकसाने वाले लोगों के आरोपों पर करंदलाज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई।

सांसद शोभा ने इस मामले में ट्वीट किया और कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की आलोचना की थी। उन्होंने कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए कहा था कि, यह सरकार तुष्टिकरण की राजनीति के चलते जिहादी गुंडों को सुरक्षा प्रदान कर रही है। उनका कहना था कि, इस तरह से समाज को बांटने का प्रयास किया जा रहा है।

सांसद के ट्वीट्स के बाद क्षेत्र में तनाव व्याप्त हो गया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि, मैं झुकने वाली नहीं हूं। जिहादी तत्वों के खिलाफ मैं लड़ती रहूंगी। गौरतलब है कि, इस घटना के बाद जब सांसद ने ट्वीट किए थे तो उनके खिलाफ, प्रकरण दर्ज कर लिया गया। इस घटनाक्रम से विजयपुरा में तनाव फैल गया था और सांप्रदायिक स्थिति बिगड़ गई थी।

एक अन्य घटना के बारे में एक ट्वीट में उन्होंने कहा, जिहादियों ने 9वीं कक्षा में अध्ययन करने वाली लड़की को बलात्कार और हत्या करने की कोशिश की। इस घटना के बारे में सरकार चुप क्यों है? इस लड़की को छेड़छाड़ करने और उसे घायल करने वालों को गिरफ्तार कर लें आप मुख्यमंत्री सिद्दारमैया कहां हैं?

करंदलाजे ने ट्विटर पर प्राथमिकी की प्रतियां साझा की, सरकार जो कर्नाटक में महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने में नाकाम रही है, अब मेरी प्राथमिकी के माध्यम से मेरी आवाज को दबाने की कोशिश करती है। उन्होंने मुख्यमंत्री के दबाव में झुकने के बिना ‘जिहादी तत्वों’ के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखने की कसम खाई।

TOPPOPULARRECENT