Sunday , December 17 2017

BJP-RSS के सहयोगी हैं ओवेसी, धार्मिक भावनाएं भड़काने में माहिर हैं: मुजाहिद आलम

किशनगंज: किशनगंज के कोचाधामन विधानसभा क्षेत्र के विधायक मास्टर मुजाहिद आलम ने एआईएम्आईएम् के प्रमुख असदुद्दीन ओवेसी पर तीखा हमला बोला है, उन्होंने कहा कि ओवेसी आरएसएस और भाजपा से मिले हुए हैं.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

मिडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ रविवार को प्रेस कांफेरेंस में मुजाहिद आलम ने कहा कि एमआईएम ने महाराष्ट्र, मुम्बई व उत्तर प्रदेश के चुनावों में आरएसएस व भाजपा को फायदा पहुँचाने का काम किया है. देश में बहुत से साम्प्रदायिक ताकतें हैं, जिनमें से कुछ खुले रुप में हैं तो कुछ ओवेसी के रूप में छिपे हैं, ओवेसी को धार्मिक भावना भड़काने में महारत हासिल है.

मुजाहिद आलम ने कहा कि चुनाव में हमें नाथूराम गोडसे और मो० अली जिन्ना जैसे पैरोकार नहीं चाहिए, हम सबको महात्मा गाँधी और मोलाना अबुल कलाम आज़ाद जैसा पैरोकार चाहिए, भारत किसी एक धर्म या समुदाय का नहीं है सभी धर्मों को साथ लेकर चलने वालों को ही जनता चुनती है.

असदुद्दीन ओवेसी हिन्दू-मुस्लिमों को बांटने का काम करते हैं, यही वजह है कि विधानसभा चुनाव में किशनगंज की जनता ने उन्हें दरकिनार कर दिया.

उन्होंने आगे कहा कि सीमांचल के लोगों को घर की रोटी ही खूब भाती है, उन्हें हैदराबादी बिरयानी नहीं चाहिए. यहाँ की जनता शांति पसंद है, इन्हें बरगलाने की कोशिश न करें, सांसद ओवेसी पहले अपने संसदीय क्षेत्र में विकास करें फिर सीमांचल की बात करें.

उल्लेखनीय है कि किशनगंज में एक सभा को संबोधित करते हुए असुद्दीन ओवेसी ने सीमांचल क्षेत्र के पिछड़ेपन के लिए सत्ताधारी दल व स्थानीय सांसद को ज़िम्मेदार ठहराया था.

TOPPOPULARRECENT