VIDEO: बीजेपी, आरएसएस’ का महिलाओं के लिए अनादर का खुलासा

VIDEO: बीजेपी, आरएसएस’ का महिलाओं के लिए अनादर का खुलासा
Click for full image

भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जो खुद को महिलाओं के अधिकारों के चैंपियन के रूप में दिखाते हैं, वे खुद महिलाओं को दूसरी श्रेणी की नागरिक मानते हैं। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत का कहना है कि शादी कोई और चीज नहीं है, बल्कि एक पुरुष और एक महिला और महिलाओं के बीच एक सौदा घरेलू काम करने के लिए होती है।जब तक पत्नी संविदा पूरी करती है तब तक उसे रखा जाता है नहीं तो छोर दिया जाता है

इससे पहले भाजपा नेता दयानशंकर सिंह ने मायावती की तुलना एक वेश्या के साथ तुलना की थी।

भाजपा सांसद बांदीलाल छत्तीसगढ़ की लड़कियों को यह कहा था कि हमें मुंबई और की कोलकाता की लड़कियों की ज़रूरत नहीं है क्योंकि छत्तीसगढ़ की लड़कियां अब ‘टनाटन ‘ हो गई हैं।

भाजपा नेता बाबूलाल गौर ने कहा है कि कोई भी बलात्कार करने से पहले हमें नहीं बताता के हम बलात्कार करने वाले हैं महिला

सशक्तिकरण पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कहते हैं कि ‘महिला शक्ति को स्वतंत्रता की आवश्यकता नहीं , ‘सुरक्षा की है

प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी को भी महिलाओं को बदनाम करने में पीछे नहीं छोड़ा गया, वे कहते हैं, ‘इस गरीब देश में 50 करोड़ गर्लफ्रेंड हैं।

 

Top Stories