Monday , December 11 2017

उधर लाठीचार्ज हुआ, इधर नेता लग गए काम पर, सुब्रमण्यम स्वामी ने BHU आंदोलन को नक्सलियों से जोड़ा

बीजेपी सासंद सुब्रमण्यम स्वामी ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में चल रहे विरोध प्रदर्शन को नक्सल आंदोलन जैसा बताया है । छेड़छाड़ के बाद प्रदर्शन कर रही छात्राओं को सुब्रमण्यम स्वामी ने नक्सलियों जैसा करार दिया है । उन्होंने यूनिवर्सिटी के कुलपति का भी बचाव किया और पूरे मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ के कदम को सही बताया है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि इस मामले में यूनिवर्सिटी के कुलपति का समर्थन करता हूं क्योंकि यह एक नक्सल आंदोलन की तरह लग रहा है, जिसका मतलब है कि वे वाइस चांसलर के कार्यालय में घुसना चाहते थे और वहां उनकी योजना हिंसा करने की थी ।

स्वामी ने सीएम योगी आदित्यनाथ के उठाए गए कदम को सही बताया है। योगी आदित्यनाथ ने बीएचयू के मुद्दे पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने आगे कहा कि जिस तरह से कुछ छात्राएं कह रही हैं कि छेड़छाड़ हुई, लेकिन ऐसा करने वालों की कोई पहचान ही उनके पास नहीं है । ऐसे में दूसरे छात्रों को इसकी जानकारी कैसे हुई। स्वामी ने कहा कि क्या इस मामले में लड़की ने तुरंत इसकी रिपोर्ट दी या नहीं?

छेड़छाड़ के विरोध में प्रदर्शन कर रहे स्टूडेंट्स पर बीएचयू में लाठीचार्ज किया गया था जिसके बाद मामला और बिगड़ गया । BHU में छात्रावास के भीतर जिस तरह से पुलिस ने लाठीचार्ज किया था, उसके बाद योगी सरकार की जमकर आलोचना हुई है । इस घटना के बाद लंका पुलिस स्टेशन के स्टेशन ऑफिसर, भेलापुर के सर्किल ऑफिसर और अडिशनल सिटी मजिस्ट्रेट को हटा दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT