रायगंज: बूथ दखल की शिकायत, मोहम्मद सलीम ने की 28 बूथों पर दोबारा मतदान की मांग!

रायगंज: बूथ दखल की शिकायत, मोहम्मद सलीम ने की 28 बूथों पर दोबारा मतदान की मांग!

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में गुरुवार को पुद्दुचेरी और देश के 11 राज्यों की 95 लोकसभा सीटों के लिए हुए मतदान में करोड़ों मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. इस दौरान पश्चिम बंगाल में हिंसा के मामले सामने आए.

रायगंज संसदीय क्षेत्र में मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) सांसद व उम्मीदवार मोहम्मद सलीम पर कथित तौर पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हमला किया। सियासत हिन्दी से फोन पर बातचीत के दौरान मोहम्मद सलीम के कहा कि तकरीबन 28 सीटों पर दोबारा मतदान कराने की हमने मांग की है। उनका कहना है कि इन बूथों को दखल किया गया है।

डी डब्ल्यू हिन्दी पर छपी खबर के अनुसार, उन्होंने वहां दोबारा चुनाव कराने की मांग की है। अधिकारियों के अनुसार, मतदान में हेराफेरी की रिपोर्ट की जांच के लिए वह मतदान केंद्र पर गए थे।

दार्जिलिंग सीट के चोपरा से सर्वाधिक हिंसा की खबर आई, जहां मतदाताओं ने अपनी सुरक्षा के लिए सभी मतदान केंद्रों पर सीआरपीएफ जवानों को तैनात करने की मांग को लेकर सड़क जाम कर दिया। वर्ष 2009 और 2014 में इस सीट पर भाजपा ने जीत दर्ज की थी।

ग्रामीणों ने सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस समर्थित गुंडों द्वारा धमकाए जाने की शिकायत की है और उन्होंने राज्य पुलिस के जवानों की सुरक्षा में वोट डालने से इंकार कर दिया। उन्होंने पुलिसकर्मियों पर पक्षपात करने का आरोप लगाया है।

श्रीनगर में एक मतदान केंद्र पर हुई पत्थरबाजी में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया। लोकसभा चुनाव का अलगाववादियों द्वारा बहिष्कार करने की अपील किए जाने के बाद श्रीनगर में ज्यादातर मतदान केंद्रों पर मतदान बहुत कम रहा।

Top Stories