कुंवर दानिश अली ने लोकसभा में मॉब लिंचिंग का मुद्दा उठाया, कहा इसके खिलाफ कानून का क्या हुआ

कुंवर दानिश अली ने लोकसभा में मॉब लिंचिंग का मुद्दा उठाया, कहा इसके खिलाफ कानून का क्या हुआ

नई दिल्ली : लोकसभा में पार्टी के सांसद दानिश अली का कहना है कि घटनाएं लोकतंत्र पर हमला है. लोकसभा में बहुजन समाज पार्टी के विधायक दल के नेता, कुंवर दानिश अली ने मंगलवार को देश के विभिन्न हिस्सों में हो रहे मॉब लिंचिंग का मुद्दा उठाया, विशेष रूप से झारखंड में मारे गए तबरेज अंसारी के मामले का उल्लेख किया। जीरो ऑवर के दौरान, उन्होंने यह जानने की मांग की कि मॉब लिंचिंग के खिलाफ कानून बनाने के मामले में सरकार क्या कर रही है।

अमरोहा के पहले कार्यकाल के सांसद श्री अली ने कहा कि मॉब लिंचिंग “लोकतंत्र पर हमला है।” उन्होंने कहा “2018 में सुप्रीम कोर्ट के एक स्पष्ट निर्देश के बाद भी भीड़ के खिलाफ कानून अभी तक नहीं बन पाया जबकि एक कानुन होना चाहिए। सदन के उपनेता के साथ सरकार से पूछें कि क्या इस तरह का कोई कानून लाने पर कोई विचार है।

गौरतलब है कि तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने कहा था कि, “लोगों को यह महसूस करना चाहिए कि भीड़ की हिंसा और कानून को अपने हाथों में लेना कानून के प्रकोप को आमंत्रित करेगा।” बेंच में जस्टिस ए.एम. खानविल्कर और डी वाई चंद्रचूड़ थे.अदालत ने केंद्रीय गृह मंत्रालय और राज्य के गृह विभागों से कहा था कि वे भीड़ की हिंसा को रोकने के लिए आप क्या कर रहे हैं।

Top Stories