Thursday , April 26 2018

कठुआ में वकीलों ने वापस ली हड़ताल, बीसीआई की टीम करेगी जांच

कठुआ कांड, रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस भेजने के मुद्दों पर बार काउंसिल ऑफ इंडिया के दबाव पर कठुआ बार एसोसिएशन ने हड़ताल वापस ले ली है। जम्मू बार एसोसिएशन सोमवार को जनरल हाउस की बैठक में हड़ताल वापस लेने पर फैसला करेगी। संभावना है कि कोर्ट में सोमवार को कामकाज शुरू हो जाएगा।

कठुआ बार एसोसिएशन के अध्यक्ष कीर्ति भूषण महाजन ने बताया कि कठुआ बार एसोसिएशन ने 12 अप्रैल से हड़ताल वापस ले ली है और सोमवार से बार एसोसिएशन के सभी सदस्य काम पर लौटेंगे।

बार एसोसिएशन मार्च के आखिरी सप्ताह से कठुआ मामले की सीबीआई जांच समेत रोहिंग्या को जम्मू कश्मीर से वापस भेजने, सुंदरबनी नौशेरा को जिले का दर्जा दिलाने और जनजातीय मामले के संबंध में मिनट्स और ऑफ मीटिंग वापस लेने की मांग को लेकर कामकाज ठप कर चुकी थी।

बीसीआई ने हाईकोर्ट के पूर्व जस्टिस की अध्यक्षता में एक पांच सदस्यीय टीम भेजने का फैसला लिया है। यह टीम कठुआ रेप हत्या केस से जुड़े वकीलों की जांच करेगी। बीसीआई चेयरमैन मनन कुमार मिश्रा ने कहा कि अगर कोई वकील दोषी पाया गया, तो काउंसिल कानूनी प्रैक्टिस का उसका लाइसेंस रद्द करेगा।

टीम जम्मू-कठुआ जाकर लोगों से बात करेगी। मनन के मुताबिक बीसीआई ने बैठक कर फैसला लिया है कि दोनों बार को हड़ताल खत्म करने का आदेश दिया जाए। वहीं बार को इस मुद्दे पर सोमवार को बैठक करने को कहा है। ज्ञात हो कि कठुआ और जम्मू की बार की हड़ताल पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए बार को नोटिस जारी किया था। इसके बाद बीसीआई ने यह बैठक की।

TOPPOPULARRECENT