देश में किसानों की आत्म हत्या के लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार: अन्ना हजारे

देश में किसानों की आत्म हत्या के लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार: अन्ना हजारे
Click for full image

नई दिल्ली: भ्रष्टाचार की लड़ाई लड़ने वाले समाजसेवी अन्ना हजारे केंद्र सरकार पर तीखा हमला किया है। रविवार को अन्ना हजारे ने केन्द्र की मोदी सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए आगामी 23 मार्च को दिल्ली में सरकार के खिलाफ अनशन करने तथा जेल भरो आंदोलन चलाने का एलान किया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ख़बर के मुताबिक, हजारे ने सम्भल में नगर पालिका मैदान पर भारतीय किसान यूनियन की राष्ट्रीय किसान महापंचायत में कहा कि देश में आज किसानों की हाल काफी बुरा है। देश में हो रहे किसानों द्वारा आत्म हत्या के लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार है।

उनहोंने कहा कि सरकार ने किसानों के प्रति कल्याणकारी स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू नहीं की। जबकि उनहोंने इसके लिए केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार को कई बार पत्र भी लिख चुके हैं, लेकिन कुछ नहीं हुआ। इस पर उनहोंने किसानों से अपने आंदोलन को समर्थन देने की अपील करते हुए कहा कि देश के सभी राज्यो में अनशन के साथ अहिंसक तरीके से जेल भरो आंदोलन किया जाएगा। जब तक किसानों की बात नहीं मानी जायेगी तब तक लड़ाई जारी रहेगी।

इसके अलावा उन्होंने केन्द्र सरकार की नीतियों का विरोध करते हुए कहा कि मोदी सरकार द्वारा बेहतर कदम उठाये जाने के इंतजार में वह साढ़े तीन साल तक कुछ नहीं बोले, लेकिन सरकार को किसान की नहीं उद्योगपतियों की अधिक चिंता है, जिसने लोकपाल को कमजोर कर दिया है। उनहोंने कहा कि मोदी जो कदम उठा रहे हैं उससे लोकतंत्र खतरे में है और देश हुकुम शाही की तरफ जा रहा है।

Top Stories