संसद में पुलवामा हमले पर सरकार का जवाब, कहा- खुफिया एजेंसियों की नाकामी नहीं थी

संसद में पुलवामा हमले पर सरकार का जवाब, कहा- खुफिया एजेंसियों की नाकामी नहीं थी

गृह राज्य मंत्री जी.किशन रेड्डी ने बुधवार को संसद में कहा कि पुलवामा हमला खुफिया एजेंसियों की नाकामी नहीं थी। संसद में रेड्डी से पूछा गया था कि क्या पुलवामा हमला खुफिया एजेंसियों की असफलता के कारण हुआ? रेड्डी ने कहा- जम्मू-कश्मीर पिछले तीन दशकों से आतंकवाद से जूझ रहा है। वहां टेरर फंडिंग और आतंक को समर्थन सीमा पार से मिलता है। हम आतंक के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रहे हैं। यही कारण है कि सुरक्षाबलों ने बीते कुछ सालों में ज्यादा संख्या में आतंकियों का खात्मा किया है।

रेड्डी ने कहा- सभी एजेंसियां बेहतर तालमेल के साथ काम कर रही हैं। खुफिया एजेंसियां समय-समय पर तमाम एजेंसियों के साथ जानकारी साझा कर रही हैं। पुलवामा हमले में एनआईए की जांच के बाद ही हमलावर, गाड़ी देने वाले और साजिश रचने वालों के नामों का खुलासा हो पाया।

14 फरवरी को पुलवामा में आतंकियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के काफिले पर हमला किया था। इसमें 40 जवान शहीद हुए थे। इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इसके बाद 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी।

हमला हुआ उस समय सीआरपीएफ के 2500 जवानों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाया जा रहा था। इस दौरान एक फिदायीन बारूद से भरी गाड़ी को लेकर जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर जा रहे काफिले में घुस गया था।

Top Stories