ईरान में प्रतिबंध झेल रही शतरंज खिलाड़ी अब अमेरिका के लिए खेलेगी

ईरान में प्रतिबंध झेल रही शतरंज खिलाड़ी अब अमेरिका के लिए खेलेगी
Click for full image

न्यूयॉर्क: ईरान की एक शानदार शतरंज खिलाड़ी जिसे हेड स्कार्फ न पहनने पर अपने देश में प्रतिबंध का सामना था, अब अमेरिका के लिए शतरंज खेलेंगी। थॉमसन रोइटरज़ फाउंडेशन की रिपोर्ट के मुताबिक उन्नीस वर्षीय डोसरा दरख्शानी पर ईरानी चेस फेडरेशन ने इसलिए प्रतिबंध लगा दिया था क्योंकि इस साल जनवरी में डोसरा ने जिब्राल्टर नामक शतरंज मुक़ाबले में अपना सिर नहीं ढंका था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इस घटना के बाद से यह जवान लड़की अब अमेरिका में रहती हैं, जहां वह सेंट लुइस विश्वविद्यालय की छात्रा हैं, और उसी शैक्षणिक संस्थान के शतरंज टीम का हिस्सा भी हैं।

अमेरिकन शतरंज फेडरेशन की वेबसाइट पर प्रकाशित विवरण के अनुसार अब डोसरा आधिकारिक तौर पर अमेरिका में चेस खिलाड़ी बन गई हैं। इरान में 1979 के बाद यह कानून लागू है कि महिलाओं को ‘सभ्य’ कपड़े पहनेंगी। लिबास के अनुसार महिलाओं के सिर पूरी तरह ढके होने चाहिए, पैंट या सलवार लंबी होनी चाहिए और संभव हो तो कपड़े के रंग गहरे और काले होने चाहिए।

Top Stories