चीन में मुसलमानों के प्रदर्शन के बाद सरकार ने रोक दी मस्जिद तोड़ने की योजना

चीन में मुसलमानों के प्रदर्शन के बाद सरकार ने रोक दी मस्जिद तोड़ने की योजना

चीन के अधिकारियों ने एक मस्जिद को तोड़ने की योजना स्थगित कर दी है। मुस्लिमों के बड़े पैमाने पर हुए प्रदर्शन को इसकी वजह बताया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस्लामीकरण रोकने के सरकार के प्रयासों के खिलाफ यह सबसे बड़ा प्रदर्शन माना जा रहा है।

शिनजियांग में उइगर के बाद हुई मुस्लिम समुदाय का दूसरा सबसे बड़ा समूह है। मामला टोंगजिन काउंटी स्थित वीझोऊ इलाके की ग्रेंड मस्जिद का है। स्थानीय अफसर इसे तोड़ने के लिए शुक्रवार को पहुंचे लेकिन मस्जिद के पास बड़ी संख्या में लोग गुरुवार रात से जुट गए थे।

रात में ही इलाके के प्रमुख भी मस्जिद पहुंचे और उन्होंने प्रदर्शनकारियों को भरोसा दिलाया कि सरकारी अफसर इमारत को तब तक छू भी नहीं सकेंगे, जब तक कि उन्हें इसकी इजाजत नहीं मिल जाती।

3 अगस्त को वीझोऊ सरकार ने मस्जिद मैनेजमेंट कमेटी को बाकायदा एक नोटिफिकेशन दिया था जिसमें 10 अगस्त तक मस्जिद तोड़ने की डेडलाइन बताई गई थी।

चीन में मुस्लिम समेत गैर-चीनी धर्मों को नियंत्रण में रखने के लिए राष्ट्रपति शी जिनपिंग 2015 में सिनिसाइज रिलीजन की नीति लाए थे। इसके तहत सभी धार्मिक समूहों को चीन की संस्कृति को मानना होगा। साथ ही उन पर कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना का नियंत्रण होगा।

Top Stories