चीन में मुसलमानों पर अब हलाल उत्पाद इस्तेमाल करने पर लगा बैन

चीन में मुसलमानों पर अब हलाल उत्पाद इस्तेमाल करने पर लगा बैन

उइगर मुसलमान बहुल प्रदेश शिनजियांग + में मुस्लिमों पर सख्ती की घटनाएं अक्सर ही खबरों में आती हैं। अब इस प्रांत में हलाल के खिलाफ अभियान शुरू किया गया है। प्रशासन ने आदेश दिया है कि हलाल उत्पादों पर पूरी तरह से बैन लगाया जाए क्योंकि इससे समुदाय विशेष में धार्मिक कट्टरता बढ़ सकती है।

शिनजियांग की राजधानी उरुमाकी में पार्टी की तरफ से यह आदेश जारी किया गया। आंकड़ों के अनुसार चीन में इस वक्त 1 करोड़ 20 लाख से अधिक मुसलमान (12 मिलियन) रह रहे हैं। यहां सरकारी अधिकारियों के लिए जारी आदेश में कहा गया कि हलाल + उत्पादों और हलाल प्रक्रिया पर सख्ती से रोक लगाया जाए। इसके साथ ही सरकारी अधिकारियों के लिए जारी आदेश में कहा गया है कि उन्हें जन-समुदाय के बीच वैचारिक प्रतिबद्धता मजबूत करने की दिशा में काम करना होगा।

बता दें कि मुसलमानों के बीच नॉनवेज खाने के लिए हलाल पद्धति प्रयोग की जाती है। हलाल को इस्लामिक धार्मिक मान्यता के अनुसार माना जाता है। सरकारी आदेश में कहा गया है कि पिछले कुछ वकत् में हलाल उत्पादों के प्रयोग में वृद्धि आई है और इससे धार्मिक कट्टरता बढ़ने की आशंका है। बता दें कि इससे पहले चीन में मुसलमानों + के विचार परिवर्तन और उन्हें देशभक्त बनाने के लिए जबरन शैक्षिक कैंप भी भेजा जा रहा

शिनजियांग में अल्पसंख्यक मुस्लिमों पर लगाई गई सरकारी पाबंदी कोई नई बात नहीं है। रमजान के दौरान नमाज पढ़नेवाली चटाई रखने की खबर भी अंतरराष्ट्रीय मीडिया में आ चुकी है। मुस्लिमों को शैक्षिक कैंप में देशभक्त बनाने के नाम पर अपनी धार्मिक मान्यताओं की आलोचना करनेवाले लेख भी लिखवाए जाते हैं।

Top Stories