चीन ने दी मुसलमानों को इस्लामीकरण से बचने की चेतावनी

चीन ने दी मुसलमानों को इस्लामीकरण से बचने की चेतावनी

बीजिंग। चीनी प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा है कि उनके देश का धीरे-धीरे ‘इस्लामीकरण’ हो रहा है। उन्होंने चीन के मुसलमानों को इससे बचने की चेतावनी भी दी है। नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के अनुसार इस्लामिक एसोसिएशन के मुखिया यांग फेमिंग ने कहा कि चीन की मस्जिदें विदेशी स्टाइल को कॉपी कर रही हैं।

कुछ मस्जिदें विदेशी डिजाइन से बन रही हैं, कुछ इलाकों में हलाल की धारणा आम हो गई है, देश के कानून से ज्यादा धर्म के नियमों को माना जाने लगा है। इस्लामिक एसोसिएशन सरकारी मदद से चलता है और यांग फेमिंग ने यह बात चीनी संसद के सदस्यों को औपचारिक सलाह देने के दौरान कही थी।

चीनी न्यूज एजेंसी के मुताबिक, यांग ने कहा कि यह सब पिछले कुछ सालों से सामने आया है और इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। यांग ने चीन के मुस्लिम नागरिकों को सलाह दी कि उन्हें धर्म के प्रति श्रद्धा दिखाने और धार्मिक स्थलों को बनवाने में चीनी तौर-तरीकों का ख्याल रखना होगा।

बता दें कि चीन के शिनजियांग प्रांत में करीब दो करोड़ मुसलमान रहते हैं। वैसे तो चीन में अपने-अपने धर्म को मानने की पूरी आजादी है, लेकिन पिछले कुछ सालों से वहां मुस्लिम इलाकों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। कथित तौर पर चीनी सरकार को वहां हिंसा और कट्टरता पनपने का डर है।

Top Stories