Tuesday , December 19 2017

CHOGM में वज़ीर-ए-आज़म की शिरकत पर तात्तुल बरक़रार

बी जे पी लीडर सुब्रामणियम स्वामी 15-16 नवंबर को श्रीलंका में होने वाले कॉमनवेल्थ हैडस आफ़ गर्वनमेंट मीटिंग (CHOGM) में वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन की शिरकत के बारे में उनके (वज़ीर-ए-आज़म) मौक़िफ़ या फ़ैसले से अवाम को वाक़िफ़ करवाने की अपील की।

बी जे पी लीडर सुब्रामणियम स्वामी 15-16 नवंबर को श्रीलंका में होने वाले कॉमनवेल्थ हैडस आफ़ गर्वनमेंट मीटिंग (CHOGM) में वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन की शिरकत के बारे में उनके (वज़ीर-ए-आज़म) मौक़िफ़ या फ़ैसले से अवाम को वाक़िफ़ करवाने की अपील की।

उन्होंने कहा कि क़ौमी मुफ़ाद को मद्द-ए-नज़र रखते हुए वज़ीर-ए-आज़म को श्रीलंका में होने वाले कान्फ़्रेंस में अपनी शिरकत या अदम शिरकत के फ़ैसले को जल्द ही देना चाहिए। याद रहे कि रियासत तामिलनाडू की सियासी पार्टीयां CHOGM में वज़ीर-ए-आज़म की शिरकत की शदीद मुख़ालिफ़त कररही हैं क्योंकि उनका कहना है कि श्रीलंका में मौजूद तमिल बाशिंदों पर श्रीलंका ज़ुलम-ओ-सितम के पहाड़ तोड़ रहा है और ऐसी सूरत-ए-हाल में वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह को श्रीलंका हरगिज़ नहीं जाना चाहिए।

बावसूक़ ज़राए ने भी ये बात बताई कि वज़ीर-ए-आज़म ने अपनी शिरकत या अदम शिरकत के बारे में हनूज़ कोई फ़ैसला नहीं किया है।

TOPPOPULARRECENT