Monday , December 18 2017

स्वामी विवेकानंद की मूर्ति टूटने पर बवाल, सोशल मीडिया द्वारा साम्प्रदायिकता को दिया जा रहा है बढ़ावा

उत्तर प्रदेश के भदोही ज़िले में नई बाज़ार रोड पर स्वामी विवेकानंद की मूर्ति टूटी मिली| इस मामले की रिपोर्ट अखंड भारत न्यूज़ वेबसाइट से एक अज्ञात व्यक्ति ने की थी| जिसके बाद पुलिस ने कार्यवाई करते हुए एक शख्श को गिरफ्तार कर लिया है| रिपोर्ट में कहा गया कि एक सामाजिक विरोधी तत्व ने मूर्ति को तोड़कर उसे बगल में ही डाल दिया| पत्रिका ने इस घटना के बारे में बताते हुए कहा कि प्रशासन ने नई प्रतिमा को लगाने का आश्वासन दिया है| यह घटना 26 अक्टूबर की है|

हालांकि समाचार रिपोर्टों के अनुसार इस मामले पर अरोपी के धर्म के बारे में कुछ नहीं कहा गया लेकिन सोशल मीडिया  पर दो पक्षों में एक सांप्रदायिक रूप ले लिया है उसपे कुछ लोगों का कहना है कि इस घटना के पीछे मुस्लिम समुदाय का हाथ है| एक व्यक्ति ने इस मामले को लेकर ट्विटर पर एक ट्वीट किया था जिसके बाद उसपे बहस शुरू हो गयी इस ट्वीट को 2600 से अधिक बार ट्वीट किया।

ट्विटर पर एक ट्वीट के ज़रिये पुलिस से आग्रह किया गया था कि इस मामले पर कार्यवाई करे और आरोपी को गिरफ्तार करे| जिसके जवाब में पुलिस ने ट्वीट करते हुए कहा कि आरोपी को 26 अक्टूबर को ही गिरफ्तार कर लिया गया था| आरोपी का नाम प्रेम चंद्र गौतम है पिता का नाम नीरज गौतम है| तथ्यों की जांच करने वाली वेबसाइट इस मामले को लेकर उन्होंने भदोही के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय कुमार से भी बात की उसके बाद उन्होंने इस मामले को किसी भी पक्ष से जोड़ने का दावा खारिज कर दिया|

उनका कहना है कि आरोपी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है| उनका कहना है सोशल मीडिया पर फ़ैलाने वाली ख़बरें झूठी हैं| महज इसी सांप्रदायिक रूप दिया जा रहा है|

 

 

TOPPOPULARRECENT