Monday , December 11 2017

जब बिहार विधानसभा में आपस में भिड़े भाजपा के दो वरिष्ठ नेता, मोदी का करना पड़ा बीच-बचाव

बिहार विधानसभा में बुधवार को भाजपा के दो वरिष्ठ नेता आपस में भिड़ गए। यह घटना विधानसभा परिषद की लॉबी में दोपहर में उस वक़्त हुई जब भाजपा के छातापुर से विधायक नीरज कुमार बबलू ने अपनी ही पार्टी के पार्षद लालबाबू प्रसाद की जमकर धुनाई कर दी।

हालाँकि यह घटना जहाँ हुई वहां कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा हुआ था इसलिए इसकी कोई रिकॉर्डिंग नहीं हो सकी।

वहीँ मौके पर मौजूद चश्मदीदों ने कहा कि लालबाबू प्रसाद ने नीरज बबलू की पत्नी नूतन सिंह जोकि खुद विधायक हैं, का हाथ पकड़ लिया जो नीरज बबलू को नागवार गुजरा। इसी बात को लेकर नीरज सिंह ने लालबाबू की पिटाई कर दी। बाद इसके नीरज बबलू इस पूरे मामले की शिकायत करने के लिए विधान परिषद के सभापति के पास चले गए।

इस बीच भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी भी बीच-बचाव करने उतर आए जिसके बाद मामले को रफा-दफा किया गया।

हालाँकि सभापति के कक्ष से बाहर आते ही एक तरफ जहां लाल बाबू प्रसाद ने ऐसी किसी भी घटना से इंकार किया वहीं नीरज बबलू और उनकी पत्नी नूतन सिंह ने भी कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है।

बाद इसके बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने मीडिया से सवाल किया कि वह इस घटना को कवर करने से क्यों दूर रहे। उन्होंने कहा, क्या इस लड़ाई में गैर-भाजपा दलों के नेता शामिल थे। यह घटना राष्ट्रीय मीडिया में बहस का एक प्रमुख विषय होनी चाहिए।

हालांकि बिहार भाजपा के शीर्ष नेताओं ने इस पूरी घटना को गंभीरता से लिया है और नीरज बबलू और लालबाबू प्रसाद दोनों को सुशील मोदी के आवास पर तलब किया गया।

TOPPOPULARRECENT