सीएम नीतीश कुमार ने माना कि भाजपा के आगे वह बेबस हैं

सीएम नीतीश कुमार ने माना कि भाजपा के आगे वह बेबस हैं

पटना: महागठबंधन छोड़कर एनडीए में शामिल होने वाले बिहार सीएम नीतीश कुमार आखिरकार यह बात मानं ही लिया कि वे भाजपा के सामने बेबस हैं। उनहोंने भाजपा के साथ रिश्तों को लेकर अपनी बेबसी का पहली बार कोई बयानबाज़ी की है। नीतीश कुमार ने उपचुनाव में जनता दल यूनाइटेड के चुनाव लड़ने पर सफाई देते हुए कहा कि हमारी पार्टी जब सदन के निर्वाचित व्यक्ति के निधन से रिक्त होती है फिर ऐसे चुनाव में उनकी पार्टी चुनाव नही लडती है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सबसे ख़ास बात यह है कि एनडीए में शामिल होने के बाद नितीश कुमार ने पहली बार भाजपा से किसी दवाब की बात स्वीकारी है। बता दें कि बिहार में तीन सीटो पर उपचुनाव 11 मार्च को हुआ था, जिसमे अररिया लोकसभा और जहानाबाद विधानसभा में राष्ट्रीय जनता दल जीत दर्ज करने में सफल रही थी।

वही भभुआ विधानसभा सीट भाजपा ने जीती है। जनता दल यूनाइटेड जहानाबाद सीट से चुनाव लड़ी थी लेकिन यहाँ उसका उम्मीदवार 35 हजार के अंतर से चुनाव हार गया।

Top Stories