Sunday , December 17 2017

पश्चिम बंगाल: मुस्लिम बहुल इलाके में रामनवमी का जुलूस, रोका तो पथराव करके घर में आग लगा दी

पश्चिम बंगाल में हुगली जिले के तेलिनीपारा इलाके में रामनवमी जुलूस निकालने को लेकर साम्प्रदायिक हिंसा भड़क गई। शनिवार को इलाके की कई दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया। इसके अलावा सरकारी और गैर-सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया गया। इस मामले में पुलिस ने अब तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के मुताबिक, शुक्रवार रात को दंगाइयों ने कई दुकानों को जला दिया और एक-दूसरे पर देशी बमों से हमला किया। पुलिस ने बताया कि इस घटना में कई लोगों को चोट आई हैं और कई सरकारी और निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। फिलहाल प्रशासन ने पूरे इलाके में पुलिस बल तैनात कर दिया है संदिग्ध तत्वों पर निगाह रखी जा रही है।

पुलिस ने बताया कि हिंसा की घटना तब पेश आई जब हिंदू समुदाय के लोग ने दूसरे समूदाय के इलाकों से रामनवमी जुलूस निकालने की कोशिश की। जूलूस लिए वो जब वो तेलिनीपारा इलाके के राजाबाजार पहुंचे तो कुछ लोगों ने उन्हें रोका।

इसके बाद दोनों समूदायों के बीच तकरार हुई और वे एक-दूसरे पर पत्थराव करने लगे। देखते ही देखते हालात बेकाबू हो गया और दंगाईयों ने दुकानों और घरों में आग लगा दिया। इसके बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और स्थिति को नियंत्रण में किया।

पुलिस ने बताया कि दंगाई भीड़ को काबू में करने के लिए उसने आंसू गैस के गोले भी दागे। हुगली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दंगा करने के आरोप में 10 स्थानीय लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में इस साल आरएसएस और भाजपा समर्थित संगठनों ने राज्य भर में जोर-शोर से रामनवमी जुलूस निकाला। इसको देखते हुए राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि रामनवमी का यह जुलूस राज्य में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की भाजपा की एक चाल है। इसका सीधा फायदा भाजपा चुनावों में उठाना चाहती है। उन्होंने यह भी कहा था कि भाजपा की यह सांप्रदायिक चाल को वह कामयाब नहीं होने देंगी।

TOPPOPULARRECENT