Monday , December 18 2017

कम्युनिस्ट पार्टी का सम्‍मेलन बीजिंग में हुआ शुरू, जिनपिंग के राष्ट्रपति बने रहने पर होगा फैसला

बीजिंग, आइएएनएस। चीन का सबसे बड़ा और महत्‍वपूर्ण राजनीतिक कार्यक्रम ‘कम्‍युनिस्‍ट पार्टी सम्‍मेलन’ बीजिंग में भारी सुरक्षा के साथ बुधवार को शुरू हो गया। इस सम्‍मेलन में यह फैसला लिया जाएगा कि अगामी पांच साल के लिए देश की कमान किसके हाथों में रहेगी। इसके बाद उसकी नीतियों का ऐलान किया जाएगा। ऐसा माना जा रहा है कि एक बार फिर से कमान शी चिनफिंग के हाथों में जा सकती है।

कम्‍युनिस्‍ट पार्टी सम्‍मेलन में 2000 से ज्‍यादा डेलिडेट्स हिस्‍सा ले रहे हैं। बंद दरवाजों में होना वाला ये सम्‍मेलन हर पांच साल में होता है। उम्‍मीद है कि यह सम्‍मेलन अगले सप्‍ताह तक चलेगा। राष्‍ट्रपति शी चिनफिंग को देश की कमान 2012 में सौंपी गई थी। ऐसी उम्‍मीद जताई जा रही है कि इस बार भी वहीं पार्टी के चीफ चुने जाएंगे।

सम्‍मेलन खत्‍म होने के बाद ऐसी उम्‍मीद की जा रही है कि पार्टी द्वारा नए चीफ और उसकी नीतियों का ऐलान किया जाएगा। बता दें कि इस सम्‍मेलन में भाग लेने वाले 2000 से ज्‍यादा डेलिगेट्स मिलकर एक सेंट्रल कमिटी का चुनाव करेंगे। सेंट्रल कमिटी से 25 सदस्‍यों वाला पोलित ब्‍यूरो बनेगा। फिर पोलित ब्‍यूरो से एक स्‍टैंडिंग कमिटी का चुनाव होगा। ये स्‍टैंडिंग कमिटी चीन की सबसे ताकतवर संस्‍था मानी जाती है।

बताया जा रहा है कि शी चिनफिंग ने कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के सम्‍मेलन में विश्‍व पटल पर चीन की अहम भूमिका का संकेट दिया है। शुरुआती भाषण में उन्‍होंने चीन बीते पांच साल की उपलब्धियां गिनाई और अगले पांच साल की योजनाओं के बारे में बताया। भारत भी इस सम्‍मेलन पर कड़ी नजर बनाए हुए है। पिछले दिनों भारत और चीन के बीच डोकलाम सीमा विवाद काफी लंबा खिंच गया था, जिसके बाद दोनों देशों के रिश्‍तों पर काफी असर पड़ा है।

TOPPOPULARRECENT