Sunday , July 22 2018

मुरुड त्रासदी के दो साल पूरे होने पर परिजनों ने कहा- SPPU अपराधियों को बचा रहा है

मुरुद त्रासदी के दो साल पुरे होने पर गुरुवार को मृतों के परिजन, रिश्तेदार व राजनीतिक दल सहित सामाजिक संगठनों ने सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय (एसपीपीयू) और आबिदा इनामदार सीनियर कॉलेज ऑफ आर्ट्स, कॉमर्स एंड साइंस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने 2016 में मुरुद में 14 कंप्यूटर साइंस के छात्रों के मरने पर उनके अपराधियों को जल्द से जल्द सज़ा देने की मांग की, गौरतलब है 1 फरवरी 2016 को वे महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में मुरुड समुद्र तट पर पिकनिक मनाने गए थे, जहाँ उनकी डूबने से मौत हो गई थी। स्थानीय लोगों द्वारा छह अन्य छात्रों को बचा लिया गया था।

आबिदा इनामदार कला, विज्ञान और वाणिज्य का सीनियर कॉलेज है जो प्राइवेट ट्रस्ट द्वारा चलता है, उसका नाम महाराष्ट्र कॉस्मोपॉलिटन एजुकेशन सोसाइटी (एमसीईएस) है, जो एसपीपीयू से संबद्ध है। घटना के बाद विश्वविद्यालय ने घटना की जांच के लिए एक फैक्ट फाइंडिंग कमीटी गठन किया था, लेकिन मृत के परिजन एमसीईएस के पदाधिकारियों और शिक्षकों और प्रिंसिपल सहित अन्य विश्वविद्यालय और कॉलेज के कर्मचारियों के कथित लापरवाही का आरोप लगाते हैं।

TOPPOPULARRECENT