Saturday , December 16 2017

मोदी सरकार में मुसलमान और दलित के साथ मीडिया भी डरा-सहमा हुआ है: कांग्रेस

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास जनपथ-10 पर चल रही पार्टी की कार्यसमिति की बैठक खत्म हो गई है। बैठक में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सहित पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, अहमद पटेल, अशोक गहलोत, अविनाश पांडे, आशा कुमारी, एके एंटनी, कमलनाथ और सीपी जोशी भी मौजूद रहे।

बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सीडब्ल्यूसी में कहा कि हमें भारत के सार और विचार की रक्षा करने के लिए तैयार रहना होगा जिसे यह सरकार खत्म करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में पहले तुलनात्मक रूप से शांति थी लेकिन अब टकराव, तनाव और भय बढ़ रहा। एक तरफ जहां पहले आर्थिक संभावना थी, वहीं आज विकासहीनता है।

बैठक के बाद मीडिया से रू-ब-रू होते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने इसरो के लिए जो सपना देखा था, वो साकार होता दिख रहा है। उन्होंने कहा कि NDA चाहे कितनी ही खुशियां मनाए लेकिन देश के लिए 3 साल निराशाजनक रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह सिर्फ नारों और पब्लिसिटी की सरकार है, जो TV पर तो हीरो दिखती है पर जमीनी काम में जीरो है।

आजाद ने कहा कि सबसे पहले कांग्रेस की ओर से इसरो को बधाई, पिछले 60 साल में जो भी इसरो ने काम किया है वह बधाई के पात्र है। कांग्रेस सरकार ने जो सपना देखा था वह पूरा होता दिख रहा है।

आजाद ने कहा कि कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में कश्मीर के मुद्दे पर चर्चा हुई है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में दलित, महिलाएं और अल्पसंख्यक समेत मीडिया भी डर का शिकार हो रही है। पिछले 3 साल से कई लोग दब कर जी रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT