Wednesday , July 18 2018

कांग्रेस ने गोवा-मणिपुर के मुद्दे पर सदन से किया वाकआउट, कहा- भाजपा ने लोकतंत्र की हत्या की है

गोवा और मणिपुर मुद्दे पर कांग्रेस ने मंगलवार को सदन से वाकआउट किया। कांग्रेस ने लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन से प्रश्नकाल के दौरान इस मुद्दे पर बोलने की अनुमति मांगी लेकिन स्पीकर ने इंकार कर दिया जिसके बाद कांग्रेस, राकांपा और राजद के सदस्यों ने सदन का वाकआउट किया।

इस दौरान कांग्रेस ने कहा कि इन राज्यों में सबसे अधिक बहुमत मिलने के बावजूद पहले उसे न बुलाकर दूसरे दल को सरकार बनाने का निमंत्रण देना लोकतंत्र की हत्या है।

दरअसल आज सुबह सदन की कार्यवाही जैसे ही शुरू हुई कांग्रेस के नेताओं ने इस मुद्दे को उठाने का कोशिश की। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे कहा कि यह लोकतंत्र की हत्या है। भाजपा ऐसा कर रही है। हमें अपनी बात रखने दिया जाए। इसके बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि अभी नहीं। जो कुछ भी कहना है, वह प्रश्नकाल के बाद कहें। इसे बाद कांग्रेस सहित राकांपा, राजद सदस्यों ने सदन से वाकआउट कर दिया।

बता दें कि गोवा में कांग्रेस के 17 विधायक हैं जबकि भाजपा के विधायकों की संख्या 13 है। गोवा फारवर्ड पार्टी और एमजीपी के तीन-तीन विधायक हैं, तीन विधायक निर्दलीय और राकांपा का एक विधायक है।

दूसरी तरफ कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर मुख्यमंत्री के तौर पर मनोहर पर्रिकर की नियुक्ति को चुनौती भी दी है। मणिपुर में भी कांग्रेस 28 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। मणिपुर में भाजपा 21 सीट जीतकर दूसरे स्थान पर रही है। दोनों दलों ने मणिपुर में सरकार बनाने का दावा पेश किया है।

TOPPOPULARRECENT