देश ने भी कश्मीरियों को तन्हा छोड़ दिया है: महबूबा मुफ़्ती

देश ने भी कश्मीरियों को तन्हा छोड़ दिया है: महबूबा मुफ़्ती

श्रीनगर: जम्मू व कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि एक बड़े देश का हिस्सा होने के बावजूद जम्मू व कश्मीर के लोग अजनबीपन महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीरियों को देश ने भी तन्हा छोड़ दिया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सुश्री मुफ़्ती ने इन बातों का व्यक्त पिछले दिनों डल झील के किनारों पर स्थित शेरे कश्मीर इंटरनेशनल कन्वेंशन काम्प्लेक्स में ट्रेवल एजेंसी एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (टाई) के 46 वीं कंवेंशन के उद्घाटन सेशन से ख़िताब करते हुए किया। उन्होंने राष्ट्रीय मीडिया पर बरसते हुए कहा कि कश्मीर में कहीं झड़प होता हिया तो उसे इस तरह से पेश किया जाता है जैसे पूरा जम्मू व कश्मीर जल रहा है।

उन्होंने कहा कि स्थिति से निपटने के विभिन्न तरीके हैं लेकिन कश्मीर में बंदूक का मुकाबला बंदूक से किया जाता है और उन बंदूकों से लगने वाले ज़ख्मों पर कोई मरहम नहीं रखता। महबूबा मुफ़्ती ने राज्य में पर्यटन क्षेत्र की बहाली को सुनिश्चित बनाने की हमदर्दाना अपील करते हुए देश की पर्यटक बिरादरी से कहा कि वह आगे आकर लोगों के बीच संपर्क को मजबूत करने में मदद करे ताकि पर्यटन विभाग को तरक्की की ऊँचाइयों तक पहुंचाया जा सके। उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि हम एक मुश्किल समय से गुजर रहे हैं। हमने आप को हमारे हाथ पकड़ने के लिए बुलाया है। कहीं कुछ होता है तो टीवी पर उसे ऐसे दिखाया जाता है जैसे पुरे जम्मू व कश्मीर पर मुसीबत आ पड़ी है।

Top Stories