तथाकथित ‘इस्लामिक आतंकवाद’ जेएनयू के कोर्स में

तथाकथित ‘इस्लामिक आतंकवाद’ जेएनयू के कोर्स में

दिल्ली: अबतक तथाकथित इस्लामी आतंकवाद को राजनीतिक और सामाजिक प्रोपेगंडा जे तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा था, मगर अब इसका इस्तेमाल पाठ्यक्रम में भी किया जाएगा। देश की मशहूर यूनिवर्सिटी जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी में इस्लामी आतंकवाद का एक कोर्स लाया जा रहा है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

जिसकी स्वीक्रति जेएनयू की अकादमिक परिषद की बैठक ने दे दी है। सूत्रों के मुताबिक जेएनयू में शुक्रवार के दिन अकादमिक परिषद की बैठक हुई जिसमें सीनियर ऑफ़ नेशनल सिक्यूरिटी (प्रस्तावित) के तहत इस्लामी आतंकवाद पढाने को स्वीक्रति देने की बात सामने आई है।

सूत्रों ने बताया कि आरएसएस के विचारधारे पर पूरे रसूख से अमल करने के लिए मशहूर जेएनयू के वाईस चांसलर जगदीश कुमार ने जेएनयू में नेशनल सिक्यूरिटी का सेंटर कायम करने का प्रस्ताव रखा है। जिसे अकादमिक परिषद ने स्वीकार कर ली है।

Top Stories