कोविड-19: जांच के लिए नया अध्ययन!

, ,

   

इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, कुल्ला किए हुए पानी के नमूने कोविड -19 का पता लगाने के लिए स्वैब का ऑप्शन हो सकता है।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट इन पर छपी खबर के अनुसार, जिसे आसानी से स्टोर किया जा सकता है। इसके साथ ही इसे स्चोर करने के लिए किसी प्रशिक्षित स्वास्थ्य कर्मचारियों की आवश्यकता भी नहीं पड़ेगी।

इस अध्ययन में सामने आया कि सैंपल स्टोर करे के लिए गार्गल वॉटर को अपनाने का एक महत्वपूर्ण प्रभाव होगा क्योंकि यह स्वैब और अन्य सेफ्टी के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरणों की आवश्यकता को भी कम करेगा। जिससे काफी बचत होगी।

SARS-CoV-2 का पता लगाने के लिए स्वैब के विकल्प के रूप में गार्गल वॉटर की स्टडी में एम्स में मेडिसिन विभाग से डॉ. नवीन विग, डॉ. मनीष सोनजा, डॉ. नीरज निश्चल और डॉ. अंकित मित्तल शामिल हैं।

इसके अलावा डॉ. अंजन त्रिखा, डॉं कपिल देव सोनी के साथ अन्य लोगों एम्स में एनेस्थीसिया और क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग से है।

“स्वैब स्टोर करके समय कई कमिया सामने आई हैं क्योंकि इसके लिए एक ट्रेनिंग की आवश्यकता होती है।

इस अध्ययन के अनुसार एक वैकल्किप सैंपल स्टोर करने के लिए बिना किसी सीमा के पार किए काफी समय की आवश्यकता होती हैं। जिसमें से यह गार्गल लवेज के द्वारा स्टोर करना शामिल है। इस तरह से सैंपल लेना कोई नया नहीं है। इसके बारे में बहुत कम लोगों को पता हैं।

यह अध्ययन उपन्यास कोरोनोवायरस की पहचान के लिए नासोफैरिंजियल और ऑरोफरींजल स्वैब की तुलना में गार्गल लवेज के परफॉर्मेंस का आकलन करने के लिए किया गया था।

यह अध्ययन नई दिल्ली के एम्स में मई और जून में यानी पूरे एक माह किया गया। जिसमें से 50 कोविड-19 रोगियों की पुष्टि की गई। इन लोगों के स्वैब और कुल्ला के पानी के सैंपल 72 घंटे के अंदर डायग्नोसिस कि गए।

एसएआरएस-सीओवी -2 का पता लगाने के लिए सैंपलों को रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन-पोलीमरेज़ चेन रिएक्शन (आरटी-पीसीआर) द्वारा संसाधित किया गया था।

अध्ययन में कहा गया है कि पोस्ट-सैंपल स्टोर, स्टोर के तरीकों में से किसी के साथ असुविधा के स्तर का आकलन करने के लिए 10-सूत्रीय पैमाने पर प्रशाशित किया गया था।

“सभी गार्गल नमूने पॉजिटिव थे और बीमारी के लक्षणों और अवधि के बावजूद उनके संबंधित स्वैब के नमूनों के बराबर थे। गार्गल के सैंपल के लिए चक्र थ्रेशोल्ड (सीटी) मान स्वैब के मुकाबले थोड़ा अधिक था, लेकिन दो तरीकों से ब्लैंड-ऑल्टमैन ने बीच अच्छा एग्रीमेंट दिखाया।