चीनी वैज्ञानिक का दावा- ‘कोविड-19 आर्मी लैब में बनाया गया था’

चीनी वैज्ञानिक का दावा- ‘कोविड-19 आर्मी लैब में बनाया गया था’

चीन प्रशासित हॉन्ग कॉन्ग से भागकर अमेरिका पहुंची हॉन्ग कॉन्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ की सीनियर वायरोलॉजिस्ट डॉ ली मेंग यान ने दावा किया है कि कोरोना वायरस को चीन के मिलिट्री लैब में बनाया गया था।

 

एशिया नेट न्यूज़ हिन्दी पर छपी खबर के अनुसार, उन्होंने इस खतरनाक वायरस के चीन के वेट मार्केट से उत्पत्ति संबंधी धारणाओं को भी खारिज कर दिया। उनके दावों से चीन ने साफ इनकार किया है।

 

 

ताइवानी समाचार एजेंसी ल्यूड प्रेस के साथ एक लाइव-स्ट्रीम साक्षात्कार के दौरान डॉ ली मेंग यान ने कहा कि जब यह महामारी फैलनी शुरू हुई तब मैंने स्पष्ट रूप से मूल्यांकन किया था कि यह वायरस चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की एक सैन्य प्रयोगशाला से आया था।

 

नवभारत टाइम्स पर छपी खबर के अनुसार, वायरोलॉजिस्ट डॉ ली मेंग यान अप्रैल में हॉन्ग कॉन्ग से अमेरिका आ गई थीं।

 

उन्हें चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत अपनी गिरफ्तारी का डर सता रहा था। उन्होंने कहा कि वे चीनी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए वहां के लोगों की मदद जारी रखेंगी।

Top Stories