Saturday , December 16 2017

सरकार ने गौशाला का रोका पैसा, CM योगी की नाक के नीचे भूख से तड़प कर मर गईं हज़ारों गायें

देश में गौरक्षा को प्रमुख रखने वाली बीजेपी के राज में गायें भूखी मर रही हैं। जिसके चलते लखनऊ में कान्हा उपवन के गोशाला में हर रोज गाये भूख के कारण मर रही हैं।

बताया जा रहा है कि पिछले 6 महीनों में ही एक हज़ार गायें मर चुकी हैं। दरअसल पिछले 6 महीने में योगी सरकार ने अपर्णा यादव की इस संस्था से अपने हाथ खींच लिए और आज जब इसे चलाने वाली संस्था जीवाश्रय समिति पर बकाया करोड़ों में पहुंच चुका है तो अब गायों की जान पर बन आई है।

बीजेपी में योगी की सरकार बनने के बाद गोशाला को एक भी पैसा नहीं मिला है। बिना सरकारी मदद के गोशाला की हालत ख़राब हो रही है।इस समस्या पर सीएम योगी का ध्यान डलवाने के लिए अपर्णा यादव ने उनसे मुलाकात भी की।

गौरतलब है की मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद सीएम योगी ने इस गोशाला का दौरा भी किया था। इस दौरान उन्होंने गायों को चारा भी खिलाया था।

गोशाला चलाने वाली संस्था के जयकेश त्रिपाठी ने बताया कि सरकारी अनुदान नहीं मिलने से गायों के लिए खाने का इंतजाम नहीं हो पा रहा है। जिस वजह से गौशाला में हर दिन पांच गायें मर जाती हैं।

त्रिपाठी ने कहा कि चीफ सेक्रेटरी से लेकर सभी अफसरों को इस बात की जानकारी दी जा चुकी है।

आपको बता दें कि अखिलेश यादव के राज में 50 रुपये प्रति गाय के हिसाब से सरकार पैसे देती थी। लेकिन अप्रैल से पैसा न मिलने के कारण गौवंश की रक्षा का काम नहीं हो पाया।

 

TOPPOPULARRECENT