Saturday , January 20 2018

योगी राज में गायों की आई जान खतरे में, खिलाने के लिए नहीं है फंड

एक तरफ़ देश में गाय के नाम पर इंसानों का खून बहाया जा रहा है तो वहीं गौशालाओं में गायों के लिए चारा भी नहीं है । यूपी में मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव की गौशाला जिसका दौरा खुद सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया था उसकी की हालत खराब हो गई है । यहां की गायें भुखमरी की हालत में पहुंच गई हैं । इसकी वजह है कि योगी सरकार ने गौशाला को फंड देना बंद कर दिया है ।

कुछ दिन पहले ही आरटीआई के जरिए पता चला था कि अखिलेश सरकार ने प्रदेश में गौ सेवा के पूरे बजट की 86 फीसदी रकम इस गौशाला को दे दी थी ।इस पर काफी विवाद हो चुका है। लेकिन उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद से इस गौशाला को दान मिलना बंद हो गया । इतना ही नहीं निजी दानदाताओं ने भी अपर्णा यादव की गौशाला की मदद करना बंद कर दिया.

हालांकि ये गौशाला अपर्णा यादव की नहीं बल्कि नगर निगम की है लेकिन वो इसकी अवैतनिक संरक्षक हैं । निगम ने गौशाला को एनजीओ जीवाश्रय को देख रेख के लिए दे दिया था । लेकिन अब प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद इसको सरकारी मदद मिलना भी बंद हो गया है ।

सत्ता परिवर्तन का ख़ामियाज़ा गायों को भुगतना पड़ रहा है क्योंकि अब गौशाला में चारे तक की व्यवस्था तक नही है । इस गौशाला के संचालाक अमित सहगल ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा कि सरकारी मदद न मिलने से गौशाला पर मुसीबत टूट पड़ी है । अगर चारे का पैसा नहीं मिलता और उधारी नहीं चुकाई गई तो हालत और खराब हो जाएगी । उनका कहना था कि 15 तारीख के बाद से वह गायों को कुछ भी खिलाने की स्थिति में नहीं होंगे.

अमित सहगल ने बताया कि कुछ लोग यहां गुप्त रूप से दान भी देते थे । लेकिन अपर्णा के नाम पर राजनीति होने से यह लोग डर गए है । इन लोगों का मानना है कि अगर कहीं कोई जांच बैठ गई तो ऐसा न हो कि वह लोग भी इसके दायरे में आ जाएं ।

वहीं बैलों की ब्रिक्री पर लगी रोक से यहां पर मवेशियों की भरमार हो गई है । अभी यहां पर 2500 गायें हैं. एक गाय को खिलाने में करीब 80 रुपए का खर्चा रोज आता है । इस मामले में अपर्णा यादव ने कहाकि वह इस गौशाला से बिना किसी फायदा के जु़ड़ी हुई हैं ।उनके नाम पर राजनीति न हो और लोगों को गायों की सेवा के लिए आगे आना चाहिए ।

उत्तर भारत में गायों पर राजनीति करने वाली बीजेपी की योगी सरकार ने इस गौशाला को इसलिए अनुदान देना बंद कर दिया है क्योंकि इससे अपर्णा यादव का नाम जुड़ा है । हालांकि सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ खुद अपर्णा यादव की गौशाला गए थे । लेकिन अब इसी गौशाला में गाय भुखमरी की कगार पर पहुंच गई है ।

TOPPOPULARRECENT