Wednesday , December 13 2017

एमिकस क्यूरी को बापू हत्याकांड से जुड़े 4,000 पेज के दस्तावेज मिले, 27 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट में जमा करेंगे अपनी रिपोर्ट

महात्मा गांधी की हत्या की नए सिरे से जांच हो या नहीं, इस पर रिपोर्ट देने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व अडिशनल सॉलिसिटर जनरल अमरेंद्र शरण को सलाहकार (एमिकस क्यूरी) नियुक्त किया है। एमिकस क्यूरी नियुक्त होने के बाद शरण ने महात्मा गांधी की हत्या से जुड़े  1969 के जीवन लाल कपूर जांच आयोग की रिपोर्ट के करीब 4,000 पेज हासिल कर ली हैं।

सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने 7 अक्टूबर को शरण को एमिकस क्यूरी नियुक्त करते हुए उन्हें निर्देश दिया था कि वह गांधी हत्याकांड से जुड़े दस्तावेजों की जांच करेंसुप्रीम कोर्ट ने यह निर्देश ‘अभिनव भारत’ के पंकज फडनीस की उस याचिका पर दिया था।

उसके बाद एमिकस क्यूरी अमरेंद्र शरण ने नैशनल आर्काइव्ज की मदद मांगी थी जिसके बाद उसने उन्हें ट्रायल कोर्ट के 4,000 पेज के रेकॉर्ड्स में से 3,000 पेज मुहैया कराए। इनमें पुलिस की जांच रिपोर्ट, फरेंसिक रिपोर्ट्स, बैलिस्टिक रिपोर्ट्स के साथ-साथ चश्मदीदों की गवाही और दूसरे दस्तावेज शामिल हैं।

वरिष्ठ वकील ने कहा कि उन्हें 1969 में गृह मंत्रालय को पेश की गई कपूर जांच आयोग की कॉपी मिल चुकी है।

शरण ने विश्वास जताया कि वह ट्रायल कोर्ट के रेकॉर्ड की पूरी पड़ताल कर लेंगे साथ-साथ कपूर आयोग द्वारा बताए गए षडयंत्र के तमाम पहलूओं और दूसरे दस्तावेजों की भी पड़ताल कर लेंगे। उन्हें 27 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट को अपनी रिपोर्ट देनी है।

TOPPOPULARRECENT