“मोदी सरकार मवेशियों की खरीद-फरोख्त की पाबंदी रद्द करे, वरना-गृह युद्ध जैसे हालात हो सकते हैं”

“मोदी सरकार मवेशियों की खरीद-फरोख्त की पाबंदी रद्द करे, वरना-गृह युद्ध जैसे हालात हो सकते हैं”
Click for full image

नई दिल्ली। कत्ल के लिए मवेशियों की खरीद-फरोख्त पर पाबंदी लगाने के मोदी सरकार के फैसले का केरल में विरोध किया जा रहा है। इसे लेकर सीपीआई नेता डी राजा ने कहा कि अगर मोदी सरकार ने इस फैसले को रद्द नहीं किया तो देश में गृहयुद्ध जैसे हालात हो सकते हैं।

कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं पर सरेआम गाय काटने के आरोप का जिक्र करते हुए सीपीआई नेता ने यह बात कही। हालांकि कांग्रेस ने इस सिलसिले में एक कार्यकर्ता को पार्टी से बाहर निकाल दिया है। राहुल गांधी ने खुद इस घटना की निंदा की है।

डी राजा ने सेनाध्यक्ष बिपिन रावत के उस बयान की भी आलोचना की जिसमें उन्होंने कश्मीरी युवक को जीप पर बांध मानव ढाल बनाने के मेजर गोगोई के फैसले का समर्थन किया था।

जनरल रावत ने कहा था कि सिर्फ दुश्मनों को ही नहीं बल्कि आपके अपने लोगों को भी सेना से डरना चाहिए। सीपीआई नेता ने जनरल रावत को नसीहत दी कि उन्हें विवादित बयानों से बचना चाहिए। उनके मुताबिक सेना के किसी भी अफसर को राजनीतिक बयान नहीं देना चाहिए

Top Stories