Thursday , January 18 2018

UP के मुजफ्फरनगर में दलित-ठाकुरों के बीच भड़की हिंसा, चली गोलियां

उत्तर प्रदेश का अतिसंवेदनशील जिला मुजफ्फरनगर एक बार फिर हिंसा की आग में झुलस उठा। यहॉ के एक गांव में छेड़खानी की घटना को लेकर दलित और ठाकुर समाज में खूनी संघर्ष चला। बताया जा रहा है कि इस खूनी खेल में 18 लोगों के घायल होने की खबर है।

हमलावरों ने भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। दोनों पक्षों में काफी देर तक गोलीबारी चलने की भी खबर है। मौके पर पहुंची पुलिस पर भी एक पक्ष के लोगों ने फायरिंग कर दी। कई थानों की पुलिस के साथ एसडीएम,सीओ समेत पुलिस के आला अधिकारियों ने घटनास्थल पर जाकर मौके का मुआयना किया। बाद में घायलों को उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया।

दरअसल मामला ये था कि गांव में दलित बस्ती में रहने वाले लोगों ने अपने गुरू समनदास के जन्मदिन के उपलक्ष्य में एक कार्यक्रम आयोजित किया। जिसमें बड़ी संख्या में दलित समाज के स्त्री- पुरूषों ने भाग लिया था। आरोप है कि रात में कार्यक्रम के दौरान ठाकुर समुदाय के लोग इस कार्यक्रम में पहुंच गए और उन्होंने दलित समुदाय की महिलाओं के साथ छेड़खानी कर दी। जिसके बाद दोनों पक्ष आमन-सामने आ गए।

गांव से लेकर सामुदायिक अस्पताल तक दलित महिलाओं ने इस घटना के बाद विरोध प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। मौके पर एसपी सिटी और एडीएम ने जाकर घटना स्थल पर से महिलाओं को समझा-बुझाकर शांत कर दिया। फिलहाल गांव में शांति का माहौल बताया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT