Wednesday , February 21 2018

दलित युवक को पीटने वालों की गिरफ्तारी की मांग

मुजफ्फरनगर में एक हिंदू संगठन के सदस्यों द्वारा हिंदू देवी-देवताओं के अपमान का आरोप लगाने के बाद पुलिस ने विपीन और उनके तीन सहयोगी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए तीन दिन का समय मांगा है।

महक सिंह ने कहा कि अगर आरोपी को जल्द गिरफ्तार नहीं किया गया तो हम ‘जेल भरो’ आंदोलन शुरू करेंगे। उधर, शहर पुलिस अधीक्षक ओमवीर सिंह ने कहा कि अभियुक्त जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे। हम उन्हें पकड़ने के लिए कई स्थानों पर छापे मार रहे हैं।

गौरतलब है कि हिन्दू संगठन के लोगों ने युवक पर देवी-देवताओं के पोस्टर फाड़ने का आरोप लगाते हुए उसकी लाठी-डंडों से पिटाई की और उससे ‘जय माता दी’ के नारे लगवाए। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वीडियो में दलित युवक को बेरहमी से पीटा जा रहा है।

वीडियो में वहां कई अन्य लोग भी मौजूद दिख रहे हैं। पिटाई करने वाले लोग उससे कह रहे हैं, ‘तुमने हमारे देवी-देवताओं का अपमान क्यों किया। हमें तुमसे कोई ऐतराज नहीं फिर तुम्हें क्यों हैं। केलानपुर गांव के निवासी विपिन कुमार को पुरखाजी में घरों की दीवारों से कथित तौर पर हिंदू देवताओं और देवी के पोस्टर फाड़ने के लिए चार लोगों ने मारा था।

TOPPOPULARRECENT