सुप्रीम कोर्ट का केंद्र और यूपी सरकार को फटकार, कहा- ताजमहल को सरंक्षण दो या फिर ढहा दो

सुप्रीम कोर्ट का केंद्र और यूपी सरकार को फटकार, कहा- ताजमहल को सरंक्षण दो या फिर ढहा दो
Click for full image

नई दिल्ली: ताज महल के संरक्षण और रखरखाव पर सरकारी उदासीनता को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को कड़ी फटकार लगाई है। कोर्ट ने फटकार लगाते हुए कहा कि ताजमहल को सरंक्षण दो या बंद कर दो या फिर इसे ध्वस्त कर दो।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ताजमहल के आसपास प्रदूषण के मुद्दे पर सुनवाई करते हुए बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ताज को बचाने की बात करना बहुत निराशाजनक है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के साथ साथ योगी सरकार को भी फटकार लगाते हुए कहा कि सरकार ने स्टैंडिंग कमेटी की रिपोर्ट को नजरअंदाज किया।

कोर्ट ने यूपी सरकार से पूछा है कि ताजमहल के आसपास उद्योगों को बढ़ाने के लिए अनुमति क्यों दी गई? कोर्ट ने कहा कि पेरिस के ऐफेल टॉवर से सरकार सीखे कि ऐतिहासिक इमारतों को कैसे सहेज कर रखा जाता है।

अब इस ऐतिहासिक इमारत को प्रदूषण से बचाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट 31 जुलाई से रोजाना सुनवाई करेगा। कोर्ट ने आगरा में ताजमहल के आसपास प्रदूषण के स्रोत पता करने के लिए एक विशेष समिति के गठन का आदेश दिया और इसे रोकने के उपायों का सुझाव दिया।

बता दें कि इंडस्ट्रीयल एरिया होने के कारण आगरा में पिछले 30 सालों में वायु प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ा है। मई 2018 में विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी वायु प्रदूषण डेटाबेस से पता चला कि आगरा सबसे खराब हवा के मामले में आठवें स्थान पर है। जिसकी वजह से ताजमहल की चमक फीकी पड़ती जा रही है।

Top Stories