नोटबंदी का उपयोग ब्लैकमनी को ‘सफेद’ बनाने में हुआ: मनमोहन सिंह

नोटबंदी का उपयोग ब्लैकमनी को ‘सफेद’ बनाने में हुआ: मनमोहन सिंह
Click for full image

नई दिल्ली: भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी और उनकी सरकार पर नोटबंदी, जीएसटी, गरीबी और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को लेकर जमकर हमला बोला। उनहोंने मोदी सरकार द्वारा किये गये नोटबंदी को देश के इतिहास की सबसे बड़ी लूट बताया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

खबर के मुताबिक, जाने-माने अर्थशास्त्री और देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सूरत में कारोबारियों को संबोधित करते हुए नोटबंदी ओर जीएसटी को लेकर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उनहोंने कहा कि, मैं प्रधानमंत्री मोदी के हौसले को सलाम करना चाहता हूं कि वो ब्लैकमनी को जड़ से उखाड़ फेंकना चाहते हैं लेकिन उनहोंने नोटबंदी का उपयोग ब्लैकमनी को ‘सफेद मनी’ बनाने में किया है। जिसमे अमीरों ने अपना ब्लैकमनी को सफेद मनी में बदल लिया, जबकि गरीबों को असंख्य तकलीफों का सामना करना पड़ा।

उनहोंने कहा कि मैं जानता हूं कि पिछले एक वर्ष में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है लेकिन हम एक जिम्मेदार विपक्ष होने के नाते उनका समाधान करने की हर संभव कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि, नोटबंदी के बाद लाइन में खड़े-खड़े करीब 100 लोगों ने अपनी जान गंवा दी। मैं बहुत ही दुख के साथ कह रहा हूं कि 8 नवंबर इकॉनमी और लोकतंत्र के लिए काला दिन था।

जीएसटी पर उन्होंने कहा कि, ‘जीएसटी अच्छा आईडिया था लेकिन गलत तरीके से लागू किया गया, सूरत भरोसे पर चलता है। आपने अच्छे दिन का भरोसा किया, लेकिन उल्टा हुआ।

श्री सिंह ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी छोटे कारोबारियों के लिए बुरे सपने की तरह है, जिससे आम लोगों को काफी परेशानी हुई। उन्होंने कहा कि सरकार ने नोटबंदी का जो मकसद बताया वह पूरी तरह विफल रहा, क्योंकि कालेधन वालों को अभी तक पकड़ा नहीं जा सका है।

बता दें कि, इससे पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने मंगलवार 7 नवंबर को गुजरात में व्यापारियों को संबोधित करते हुए मोदी सरकार पर अनेकों मुद्दों को लेकर जमकर हमला बोला था। जबकि पूर्व पीएम ने मोदी सरकार द्वारा किये गये नोटबंदी को देश के इतिहास की सबसे बड़ी लूट बताया था।

https://twitter.com/ANI/status/936884654132535297/photo/1?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=http%3A%2F%2Fwww.jantakareporter.com%2Fhindi%2Fmanmohan-singh-in-surat%2F162641%2F

Top Stories