दिल्ली कश्मीरियों की नहीं सुन सकती लेकिन पत्रकार जरूर सुनें: राजदीप सरदेसाई

दिल्ली कश्मीरियों की नहीं सुन सकती लेकिन पत्रकार जरूर सुनें: राजदीप सरदेसाई
Click for full image

श्रीनगर: प्रख्यात पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने कहा कि अगर दिल्ली (केंद्रीय सरकार) कश्मीरियों को नहीं सुन सकती लेकिन पत्रकारों को उन्हें जरूर सुनना चाहिए।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कहा कि कश्मीरी विवाद नहीं समाधान चाहते हैं। राजदीप ने इन विचारों का इज़हार माइक्रो ब्लोगिंग वेबसाइट ट्विटर पर अपने एक ट्विट में किया है। मिस्टर राजदीप सरदेसाई जो निजी दौरे पर कश्मीर में हैं, ने दक्षिण कश्मीर के जिला अनंतनाग के विमेंस कॉलेज में छात्राओं से मुलाक़ात के बाद अपने एक ट्विट में कहा कि मैंने अनंतनाग में छात्रओं को सुना।

अगर दिल्ली कश्मीरियों को नहीं सुन सकती लेकिन पत्रकारों को उन्हें ज़रूर सुनना चाहिए। छात्राओं का सामूहिक तौर पर कहना था कि हम शिक्षा चाहते हैं कर्फ्यू नहीं। हम समाधान चाहते हैं विवाद नहीं। उन्होंने इस्मत इकबाल नामी एक महिला के ट्विट सर, आपके साथ बातचीत बहुत अच्छी रही। हमें यह महसूस हुआ कि कोई हमें सुनता है। हम हरएक चीज़ पर सहमत नहीं हो सकते लेकिन हमें बिना किसी भेदभाव के एक दुसरे को सुनना चाहिए।

Top Stories