Tuesday , January 23 2018

विश्व पुस्तक मेले में इस्लाम और महिलाओं के अधिकार वाली किताबों की मांग

दिल्ली। प्रगति मैदान में चल रहे विश्व पुस्तक मेले में इस्लामी किताबों में ‘औरत और इस्लाम’ की खासी मांग है। उर्दू प्रकाशक हिन्दी और अंग्रेजी में भी कई किताबों को लेकर आए हैं। मरकज़ी मकतबा इस्लामी पब्लिशर्स के मेराज खालिद ने ‘भाषा’ को बताया कि ‘औरत और इस्लाम’ नाम की किताब सबसे ज्यादा बिक रही है जिसके अंग्रेजी संस्करण का नाम ‘वूमन राइट्स इन इस्लाम’ है।

दिल्ली पुस्तक मेले में इस्लाम में  बताने

इस पुस्तक को खरीदने वालों में महिलाएं अधिक हैं और उनमें भी गैर मुस्लिम महिलाओं की संख्या ज्यादा है और वे इस पुस्तक का अंग्रेजी या हिन्दी संस्करण ले रही हैं। मेराज खालिद ने बताया कि इस्लाम में महिलाओं के मुकाम का वर्णन करने वाली पुस्तकों के अलावा जिहाद और आतंकवाद के बारे में लिखी किताबें भी पाठक ले रहे हैं। इनमें भी गैर मुस्लिमों की संख्या अधिक है।

वहीं इस्लामी बुक सर्विस लि.के नसीम अहमद ने बताया कि मेले में ‘पैगंबर की पत्नियां’, ‘पैगंबर की बेटियां’, ‘पति पत्नी के अधिकार’, ‘इस्लाम में पारिवारिक मूल्य’, ‘वूमन इन इस्लाम’ आदि किताबों की भी मांग है। किताब खरीद रहे तुषार ने बताया कि टीवी और अखबारों में सब अपनी अपनी बात करते हैं।

कोई कहता है कि ”महिलाओं को अधिकार है तो कोई कहता है अधिकार नहीं है। इतना कंफ्यूजन है कि कुछ समझ ही नहीं आता है कि कौन सही है। इसलिए किताबें खरीद रहे हैं ताकि असल स्थिति मालूम हो। वहीं जावेद ने बताया कि यहां कुछ प्रकाशक ‘हिन्दी और अंग्रेजी में पुस्तकें लेकर आए हैं जिन्हें हम खरीद रहे हैं ताकि थोडी दीनी जानकारी हो और लोगों के सवालों के जवाब दे सकें’।

TOPPOPULARRECENT