बदला लेने की नीयत से की गई इमरान की हत्या!

बदला लेने की नीयत से की गई इमरान की हत्या!

दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले की एंटी स्नैचिंग रॉबरी सेल ने इमरान सैफी हत्याकांड के मामले में दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्हें शक था कि कब्रिस्तान में गोलीबारी मेें मारे गए उनके दोस्त की हत्या में इमरान शामिल था।

बदमाशों के पास से एक सेमी पिस्टल, चार कारतूस के अलावा चोरी की बाइक मिली है। दिल्ली पुलिस ने पकड़े गए दोनों बदमाशों पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था।

जिला पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि गत मंगलवार को वेलकम इलाके में इमरान सैफी (36) की गोली मारकर हत्या कर दी थी। मामले की जांच में एंटी स्नैचिंग रॉबरी सेल कर रही थी।

निरीक्षक विनय यादव के नेतृत्व में टीम ने जांच शुरू की और दानिश नाम के बदमाश को 25 जुलाई की देर रात ज्योति कॉलोनी से गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में दानिश ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। उसने बताया कि वारदात को उसने अमन के साथ मिलकर अंजाम दिया था। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर अगले दिन अमन को गिरफ्तार कर लिया।

अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, बदमाशों ने बताया कि गत 11 जनवरी को उनके दोस्त महफूज खान (35) की कब्रिस्तान में गोली मारकर हत्या कर दी थी। उन्हें शक था कि इमरान सैफी भी इस साजिश में शामिल था।

दोस्त की हत्या का बदला लेने के लिए वारदात को अंजाम दिया। इसके लिए अपने दोस्त से पिस्टल का इंतजाम किया। पुलिस हथियार मुहैया कराने वाले उनके दोस्त की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है। पकड़े गए दोनों बदमाशों ने वर्ष 2017 में स्पेशल सेल की टीम पर गोली चलाई थी। जवाबी कार्रवाई के बाद दोनों दबोच लिए गए थे।

Top Stories