Tuesday , April 24 2018

इजराइल का विमान गिराए जाने से अजेय होने का भ्रम टूट गया है: ईरान

म्युंख: म्युंख सुरक्षा सम्मेलन में यहूदी प्रधानमंत्री बेंजामिन नितेन याहू ने ईरान को दुनिया के लिए सबसे बड़ा खतरा बताते हुए एक बार फिर चेतावनी दी है कि इजराइल ज़रूरत पड़ने पर ईरान के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है। जबकि उसकी सम्मेलन में मौजूद ईरानी विदेश मंत्री जव्वाद ज़रीफ़ ने यहूदी प्रधनमंत्री का मजाक उड़ाया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

जव्वाद ज़रीफ़ ने ड्रोन के एक टुकड़े और मध्य पूर्व के नक्शे के जरिए नितेन याहू की भाषण को सर्कस बताते हुए कहा है कि यह जवाब दिए जाने का हकदार नहीं है। म्युंख सम्मेलन में नितेन याहू ने अपने हाथ में ड्रोन विमान का एक टुकड़ा उठाकर दावा किया कि यह ईरानी ड्रोन का है, जिसने इजराइल के हवाई सीमा में दखलंदाजी की थी।

यहूदी प्रधानमंत्री ने कहा ‘इजराइल ईरान को हमारी गर्दन में आतंकवादी का फंदा बांधने की इजाजत नहीं देगा। नितेन्याहू ने कहा कि इजराइल न सिर्फ तेहरान के सहयोगी बल्कि ज़रूरत पड़ने पर ईरान के खिलाफ भी कार्रवाई करेगा। मयूँख की सालाना सुरक्षा सम्मेलन में अमेरिकी और यूरोप के देश के सुरक्षा अधिकारी और राजदूतों की मौजूदगी में पहली बार ख़िताब करते हुए नितेन याहू ने ईरान को रोकने पर जोर दिया और साथ में ही एक नक्शा दिखाकर दावा किया कि मध्य पूर्व में ईरान की मौजूदगी में वृद्धि हो रहा है।

TOPPOPULARRECENT