Friday , July 20 2018

जयंत सिन्हा को कैबिनेट से हटाने की मांग

People protest against the recent cases of mob lynching of Muslims who were accused of possessing beef, in New Delhi, India, June 28, 2017. REUTERS/Cathal McNaughton - RTS18YWE

नई दिल्ली: मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर जोलीवर बीरो, पूर्व इन्फोर्मेशन कमिश्नर वजाहत हबीबुल्लाह और 41 दुसरे पूर्व नौकरशाहों ने मोब लिंचिंग के 8 अपराधियों को माला पहनाने को लेकर केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा को कैबिनेट से हटाने की मांग किया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

पूर्व नौकरशाहों ने एक बयान जारी करके कहा है कि जयंत सिन्हा के इस कदम से ‘अल्पसंख्यकों की हत्या का लाईसेंस’ मिलने का पैगाम जाता है। उनका कहना है कि उससे इस तरह के अपराधिक मामलों के आरोपियों की वित्तीय, कानूनी और राजनीतिक सहायता को बढ़ावा मिलेगा। सिन्हा ने गोश्त कारोबारी अलीमुद्दीन अंसारी को पीट पीटकर मारे दिए जाने के मामले के अपराधियों के जेल से बाहर आने पर स्वागत किया था। इस बात को लेकर विवाद पैदा हो गया था।

पिछले साल 29 जून को गोश्त के कारोबारी अलीमुद्दीन अंसारी अपनी कार में गाय का गोश्त ले जाने के शक में रामगढ़ थाना क्षेत्र में भीड़ के जरिये पीट पीट कर मार दिया गया था। 21 मार्च को एक फ़ास्ट ट्रेक कोर्ट ने रामगढ़ के मामले में 11 आरोपियों को उम्रकैद की सज़ा सुनाई थी। जयंत सिन्हा ने झारखंड हाई कोर्ट के जरिये इस मामले के अपराधों को हाल ही में जमानत दिए जाने पर ख़ुशी ज़ाहिर की थी और अपराधियों को माला पहनकर मिठाई खिलाई थी।

TOPPOPULARRECENT