Thursday , December 14 2017

रिपोर्ट: नोटबंदी के फैसले से 2 लाख लोग हुए बेरोज़गार

सत्ता में आने से पहले अपने चुनाव प्रचार में पीएम मोदी ने देश में 2.5 करोड़ नौकरियां देने की बात कही थी लेकिन उनके नोटबंदी के फैसले से रोजगार में भारी गिरावट आई है। बीते साल नवम्बर में लागू की गई नोटबंदी से 2 लाख से ज्यादा लोगों ने अपना रोजगार खोया है।

द हिंदू बिज़नेस लाइन की रिपोर्ट के मुताबिक, अक्टूबर 2016 से लेकर जनवरी 2017 के बीच देश में कुल 1.52 लाख अस्थायी नौकरियां और 46,000 पार्ट टाइम नौकरियां ख़त्म हो गईं।

नोटबंदी का शिकार सबसे ज्यादा अस्थायी नौकरियां ही बनी है। मैन्युफैक्चरिंग में 1.13 लाख नौकरियां ख़त्म हुईं। इस क्षेत्र में पार्ट टाइम नौकरी करने वाले लोगों पर ज्यादा असर पड़ा।

जबकि आईटी और बीपीओ सेक्टर में भी लगभग 20,000 नौकरियां खत्म हो गई। इसके अलावा कंस्ट्रक्शन क्षेत्र में भी नौकरियों में भारी कमी आई है।

बता दें कि सत्ता में आने से पहले अपने चुनाव प्रचार में पीएम मोदी ने देश में 2.5 करोड़ नौकरियां देने की बात कही थी। लेकिन उनके नोटबंदी के फैसले से रोजगार में भारी गिरावट आई है।

TOPPOPULARRECENT