Sunday , February 25 2018

दिल्ली में इजराइल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू की यात्रा के विरोध में प्रदर्शन

नई दिल्ली। अपनी 6 दिवसीय आधिकारिक भारत यात्रा पर पहुंचे इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का देश भर में जमकर विरोध हो रहा है। नई दिल्ली स्थित इजराइल दूतावास के सामने फिलिस्तीनी झंडों के साथ विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारी नेतन्याहू की भारत यात्रा से नाराज है।

प्रदर्शनकारियों ने नेतन्याहू को जालिम करार दिया जो कि फिलिस्तीन की मासूम अवाम पर जुल्म करता है। प्रदर्शनकारियों में ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मुशावरत के अध्यक्ष नवेद हामिद, वेलफेयर पार्टी के कासिम रसूल इलियास, यूनाइटेड अगेनस्ट के हाजी खालिद सैफी, जमात ए इस्लामी के मिडिया प्रभारी अरशद शेख, इनामुर रहमान, सामाजिक कार्यकर्त्ता नदीम खान समेत अनेक लोग उपस्थित थे।

ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मुशावरत के अध्यक्ष नवेद हामिद ने कहा कि भारतवासी हमेशा मजलूमों के हिमायती रहे है ना कि जालिमों के। उन्होंने सवाल किया कि आखिर मोदी सरकार इजराइल से क्यों हथियार ले रही है। इस दौरान कई वक्ताओं ने अपनी बता रखी।

इससे पहले वाम दलों ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की भारत यात्रा के विरोध में इंडिया गेट पर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। इसमें भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भाकपा (माले) और सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर के कार्यकर्ता शामिल थे।

प्रदर्शनकारी ‘नेतन्याहू वापस जाओ’ के नारे लगा रहे थे। हाथों में तख्तियां लिए हुए प्रदर्शनकारी इजरायल विरोधी नारेबाजी भी करते दिखे। इस अवसर पर डी राजा ने कहा कि वो लोग फिलिस्तीनी जनता पर इजरायल के कथित अत्याचार और उनकी जमीन से इजरायल के कब्जे को दूर करने की मांग कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT