यूपी में धर्म परिवर्तन को लेकर बवाल, हिन्दू संगठनों ने किया हंगामा!

यूपी में धर्म परिवर्तन को लेकर बवाल, हिन्दू संगठनों ने किया हंगामा!

चक्कर की मिलक में एक घर में चल रही चंगाई सभा में हिंदुओं के धर्म परिवर्तन की सूचना पर हिंदू जागरण मंच और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जाकर हंगामा किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने प्रार्थना सभा रुकवा दी। प्रार्थना सभा करने आए चार लोगों को पुलिस थाने ले आई है। इनमें से दो युवतियां हैं।

इसके बाद दोनों ही संगठनों के पदाधिकारियों ने सिविल लाइन थाने पहुंचकर हंगामा किया और आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में सिविल लाइन थाने में तहरीर दी गई है।

चक्कर की मिलकर में जगदीश सैनी का परिवार रहता है। उसने बताया कि उन्होंने अपने घर पर प्रार्थना सभा रखी थी। जिसमें देहरादून निवासी ईसाई धर्म के चार पदाधिकारी ये चारों लोग चंगाई सभा कर रहे थे, जिसमें करीब 50 लोग मौजूद थे।

इस दौरान ही किसी ने हिंदू जागरण मंच और बजरंग दल के पदाधिकारियों को सूचना दे दी कि जगदीश के घर में हिंदुओं को धर्म परिवर्तन के लिए लालच दिया जा रहा है।

खुद जगदीश के ही भतीजे चंदन, तेजपाल और परिवार के ही विनोद सैनी, बलवीर सैनी ने प्रार्थना सभा का विरोध जताया। सूचना पर दोनों संगठनों के पदाधिकारी पहुंचे तो पुलिस को भी सूचना दे दी गई।

जबरदस्त हंगामे के बीच पुलिस ने वहां प्रार्थना सभा करने आए लोगों को बाहर निकाला और थाने ले आई। यहां पर जगदीश से पूछताछ की गई तो उसने खुद को हिंदू बताया। जानकारी दी कि उसका बेटा बीमार रहता था।

अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, प्रार्थना सभा में एक साल से वह बेटे को लेकर जा रहे थे। अब उसकी तबीयत में सुधार है। इस वजह से ही वह घर पर प्रार्थना सभा करवा रहे थे। धर्म परिवर्तन के आरोपों को उन्होंने नकार दिया है।

बजरंग दल के महानगर संयोजक वरुण शर्मा और हिंदू जागरण मंच के पदाधिकारी कपिल कुमार ने बताया कि इस तरह से पहले भी शहर में कई बार हो चुका है।

नागफनी में भी चार परिवारों का धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश की गई थी। उन्होंने पुलिस से मांग करते हुए कहा कि शहर में इस तरह की प्रार्थना सभाओं को शहर में किसी सार्वजनिक स्थल या हिंदुओं के घरों पर होने से रोका जाए। जिससे की ईसाई धर्म के लोग हिंदुओं को बरगलाकर उनका धर्म परिवर्तन न करवा सकें।

‘धर्म परिवर्तन की सूचना मिली थी लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। जगदीश के परिवार ने धर्म परिवर्तन करने से इंकार किया है। उन्होंने बताया कि वह हिंदू हैं, हिंदू ही रहेंगे। तहरीर मिली है, जांच की जा रही है।

Top Stories