दिल्ली हिंसा : मदद को स्थानीय लोगों ने बढ़ाये हाथ, घायलों के परिजनों को खिला रहे खाना

दिल्ली हिंसा : मदद को स्थानीय लोगों ने बढ़ाये हाथ, घायलों के परिजनों को खिला रहे खाना

कहते हैं हिंसा करने वाली भीड़ का कोई चेहरा नहीं होता लेकिन इंसानियत का चेहरा जरूर होता है. हिंसा पीड़ितों की मदद करने वाला एक चेहरा राजधानी दिल्ली में जीटीबी अस्पताल के बाहर दिखा.

दिल्ली हिंसा : मदद को स्थानीय लोगों ने बढ़ाये हाथ, घायलों के परिजनों को खिला रहे खाना 1
दिल्ली हिंसा : मदद को स्थानीय लोगों ने बढ़ाये हाथ, घायलों के परिजनों को खिला रहे खाना 2

 

दिल्ली हिंसा : मदद को स्थानीय लोगों ने बढ़ाये हाथ, घायलों के परिजनों को खिला रहे खाना 3

 

यहां कुछ स्थानीय लोग घायलों के परिजनों के लिए खाने का विधिवत इंतजाम करते दिखे. बाकायदा ठेले पर बड़े बर्तनों में खाना लाकर प्लेटों में सजाकर पीड़ितों के परिजनों का पेट भरा.

Top Stories