Monday , December 18 2017

डोनाल्ड ट्रंप, किम जोंग के बीच तकरार से रूस परेशान

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के बीच तल्ख वाक्युद्ध के बाद रूस ने शुक्रवार (22 सितंबर) को कहा कि उत्तर कोरिया को लेकर तनाव बढ़ने से वह बहुत चिंतित है. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता दमित्रि पेस्कोव ने संवाददाताओं से कहा कि धमकियों से भरे बयानो से कोरियाई प्रायद्वीप पर तनाव बढ़ने से रूस बहुत चिंतित है. मास्को इसमें रुचि रखने वाले सभी पक्षों से संयम प्रदर्शित करने की अपील करता है, ताकि यह तनाव और नहीं भड़के. उन्होंने उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम से जुड़ी समस्या को सिर्फ वार्ता के जरिए सुलझाने के रूस के रुख को दोहराया.

मंगलवार (19 सितंबर) को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने प्रथम संबोधन में ‘रॉकेट मैन’ किम को चेतावनी दी थी कि यदि उत्तर कोरिया ने अमेरिका और इसके सहयोगी देशों को धमकी दी, तो वह उसे पूरी तरह से तबाह कर देंगे. गौरतलब है कि उत्तर कोरिया पर सख्त प्रतिबंध लगाने की अमेरिकी घोषणा के कुछ ही घंटों बाद एक व्यक्तिगत हमला करते हुए किम ने कहा कि ट्रंप मानसिक रूप से बीमार हैं और उनके देश को नष्ट करने की धमकी की वह भारी कीमत चुकाएंगे. वहीं, किम के विदेश मंत्री री योंग-हो ने संवाददाताओं से कहा है कि उत्तर कोरिया अब अपनी सरजमीं के बाहर हाइड्रोजन बम में विस्फोट करने पर विचार कर सकता है. चीन और रूस की अपील के बावजूद अमेरिका ने उत्तर कोरिया से बातचीत करने से इनकार कर दिया है.

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने शुक्रवार (22 सितंबर) को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को ‘मानसिक विक्षिप्त’ बताकर उनका मजाक उड़ाते हुये चेतावनी दी कि वह यह सुनिश्चित करेंगे कि अमेरिकी राष्ट्रपति को संयुक्त राष्ट्र में उनके देश के विनाश संबंधी बयान देने के लिये ‘भारी कीमत’ चुकानी होगी. ट्रंप ने मंगलवार (19 सितंबर) को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने पहले संबोधन में उत्तर कोरिया को चेतावनी देने के दौरान यह कहकर दुनिया को चौंका दिया था कि अगर अमेरिका और उसके सहयोगियों पर हमला किया गया तो वॉशिंगटन उसे ‘पूरी तरह तबाह’ कर देगा.

 

TOPPOPULARRECENT