नस्लवादी बयान के खिलाफ़ डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ़ निंदा प्रस्ताव पारित!

नस्लवादी बयान के खिलाफ़ डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ़ निंदा प्रस्ताव पारित!

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ‘नस्लीय टिप्पणी’ के खिलाफ मंगलवार को निंदा प्रस्ताव पारित किया। इस प्रस्ताव के पक्ष में 235 डेमोक्रेटिक सांसदों के अलावा 4 रिपब्लिकन और एक निर्दलीय सांसद ने भी वोट किया।

प्रतिनिधि सभा में डेमोक्रेटिक पार्टी बहुमत में है। पारित प्रस्ताव में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कथित नस्लीय टिप्पणियों की कड़ी निंदा की गई है। इसमें कहा गया कि ट्रंप की इस टिप्पणी ने नए अमेरिकियों और अश्वेत लोगों के प्रति डर और नफरत को बढ़ाया है।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, नस्लवाद के मुद्दे पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेट्स आमने-सामने आ गए हैं। देश की प्रतिनिधि सभा में बहुमत का आंकड़ा रखने वाली डेमोक्रेटिक पार्टी ने सोमवार को एक प्रस्ताव पेश कर पार्टी की 4 महिला सांसदों को ‘नस्लवादी’ बताने वाले ट्रंप के ट्वीट की आलोचना की।

विपक्षी नेताओं और राष्ट्रपति के बीच इस मुद्दे पर लगातार विवाद हो रहा है। आपको बता दें कि बीते कुछ दिनों से यह मुद्दा देश में छाया हुआ है। ट्रंप ने डेमोक्रेटिक पार्टी की 4 महिला सांसदों के खिलाफ कई ट्वीट किए हैं।

ट्रंप ने ट्वीट किया था, ‘डेमोक्रेट सदस्य इन 4 ‘प्रगतिवादियों’ से खुद को दूर रखने की कोशिश कर रहे थे लेकिन अब वे उन्हें गले लगा रहे हैं। इसका मतलब ये है कि वे समाजवाद का समर्थन कर रहे हैं, इस्राइल और अमेरिका से नफरत कर रही हैं!

डेमोक्रेट के लिए यह अच्छा नहीं है।’ ट्रंप के निशाने पर कांग्रेस सांसद एलेक्जेंड्रिया ओकासियो कॉर्टेज, इल्हान ओमर, राशिदा तलाइब और अयाना प्रेस्ली थीं।

इन पर निशाना साधते हुए ट्रंप ने कहा था कि उन्हें ‘अपने देश वापस लौट जाना चाहिए, जहां से वे आई हैं। उन्हें पूरी तरह से तबाह हो चुके और अपराध से ग्रस्त उन देशों की समस्याओं का समाधान करना चाहिए।’

Top Stories