डॉ उज़मा सैयद ने बीबीसी के साथ सोशल मीडिया के संभावित नुकसान पर कही बड़ी बातें !

डॉ उज़मा सैयद  ने बीबीसी के साथ सोशल मीडिया के संभावित नुकसान पर कही बड़ी बातें !

हैदराबाद: हाल ही में बॉलीवुड की दो प्रमुख हस्तियों द्वारा “वुमन ऑफ सब्सटेंस” पुरस्कार से सम्मानित डॉ उज़मा सैयद ने जिन्होंने आज की दुनिया में नौकरी की खोज और सोशल मीडिया के संभावित नुकसान पर  जानकारी साझा की हैं।

पहले बता दें की डॉ उज़मा की पहली पीढ़ी भारतीय मुस्लिम है और उनके माता-पिता हैदराबादी फ़िलहाल अमेरिकी में अपने बच्चों के लिए विश्व स्तरीय उच्च शिक्षा प्रदान करने के लिए भारत से जाकर बस गए थे।

डॉ उज़मा ने अलिग्न यूएस इंक नामक एक गैर-लाभकारी संगठन की स्थापना की जिसका मकसद युवाओं को सोशल मीडिया और इसके खतरों पर बताता और नौकरी तलाशने की सलाह देने के बारे में मदद करना है ।

बता दें की इस महीने की शुरुआत में, एक मार्केटिंग कंपनी में एक युवती द्वारा नौकरी का आवेदन वायरल हुआ था।  आवेदक ने मार्केटिंग कंपनी कि कैस मास्टरमाइंड्स में नौकरी के अप्लाई किया था लेकिन जब  कंपनी ने उसके निजी इंस्टाग्राम अकाउंट देखा तो दंग रह गए जब उन्होंने वहां पाया की आवेदक ने किसी महिला की बिकिनी पहनने की तस्वीर पोस्ट की हुई है । इस फोटो को पोस्ट करते  हुए उसने लिखा था   “मैं एक डिजिटल मर्केटर की तलाश में हूँ – बिकनी मॉडल नहीं।

Top Stories