Monday , September 24 2018

अमरनाथ आतंकी हमला: ख़ुद की जान जोखिम में डाल, इस मुस्लिम बस ड्राइवर ने बचाई भक्तों की जान

बीते कल अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर हुआ हमला और भयावह हो सकता था। इस हमले में और कई जाने जा सकती थीं लेकिन बस ड्राइवर सलीम की हिम्मत के सामने आतंकियों के मंसूबे पूरे नहीं हो सके।

दरअसल, बस अनंतनाग से 2 किमी दूर पंचर हो गई थी, जिसे बनाने में देर हो गई। जैसे ही बस निकली आतंकियों ने हमला कर दिया।

गोलियों की आवाज़ सुनकर बस में अफ़रातफरी मच गई थी और लोग घबरा गए थे लेकिन ऐसे संकट के समय बस के ड्रावर सलीम शेख़ ने हिम्मत नहीं हारी।

उसे मालूम था कि अगर उसने बस रोक दी तो आतंकियों के लिए बस पर निशाना साधना आसान हो जाएगा। बस फिर क्या था, सलीम ने बस के एक्सेलेरेटर पर पांव रखा और गोलीबारी के बीच बस दौड़ाना शुरु कर दिया।

इस बीच एक गोली बस के टायर पर भी लगी लेकिन फिर भी सलीम ने बस नहीं रोकी और लगातार बस दौड़ाते रहे।

आख़िर में सलीम बस को लेकर एक आर्मी कैंप में पुंच गए और इस तरह उन्होंने अपनी जान पर खेलकर कई लोगों की जान बचा ली।

बता दें कि इस हमले में 7 यात्रियों की मौत हो गई है और 19 से ज्यादा घायल हुए हैं।

 

 

 

TOPPOPULARRECENT