DU प्रोफेसर जीएन साईबाबा UAPA एक्ट में दोषी करार, माओवादियों के साथ संबंध रखने के था आरोप

DU प्रोफेसर जीएन साईबाबा UAPA एक्ट में दोषी करार, माओवादियों के साथ संबंध रखने के था आरोप
Click for full image

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली कोर्ट ने मंगलवार को डीयू प्रोफेसर जीएन साईबाबा समेत 6 लोगों को गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) एक्ट के तहत दोषी पाया गया है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी में अंग्रेजी के प्रोफेसर जी.एन. साईबाबा माओवादियों के साथ कथित संबंध रखने के आरोपी थे। उन्हें महाराष्ट्र पुलिस ने मई 2014 में गिरफ्तार किया था।

प्रोफेसर जीएन साईबाबा बतौर सामाजिक कार्यकर्ता, रिवोल्यूशनरी डेमोक्रेटिक फ्रंट नाम की भी एक संस्था से जुड़े हुए थे।

गौरतलब है कि प्रोफेसर  साईबाबा पोलियो से ग्रसित हैं और उनका 90 फीसदी शरीर अक्षम है। दिल्ली विश्वविद्यालय प्रोफेसर जी.एन. साईबाबा माओवादियों के साथ कथित संबंध रखने के आरोपी थे।

Top Stories